जिलाधिकारी की अध्यक्षता में स्वास्थ्य एवं पोषण पर आधारित जिला गुणवत्ता यकीन समिति की बैठक 

–  बैठक में जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य और पोषण से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर दिए दिशा-निर्देश 

– बैठक में जिला प्रशासन के अधिकारियों के अलावा हेल्थ और आईसीडीएस के अधिकारी व विकास मित्र हुए शामिल 

मुंगेर, 8 फरवरी-
सोमवार की देर रात जिलाधिकारी नवीन कुमार की अध्यक्षता में स्वास्थ्य एवं पोषण पर आधारित जिला गुणवत्ता यकीन समिति की बैठक हुई । बैठक में  डीडीसी, डीपीओ (आईसीडीएस), सिविल सर्जन, डीपीएम जिला स्वास्थ्य समिति, एडीएम, सभी एसडीओ,  आईसीडीएस से जुड़े अधिकारी, प्रखण्ड स्तर पर कार्यरत स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ- साथ जिला और प्रखंड स्तर पर कार्यरत डेवलपमेन्ट पार्टनर के प्रतिनिधि और विकास मित्र शामिल थे। 

जिला स्वास्थ्य समिति के जिला कार्यक्रम प्रबंधक नसीम रजि ने बताया कि समीक्षा बैठक में   ऑब्जर्वेशन, फील्ड विजिट, नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे (एनएफएचएस) 4 और 5 के आंकड़ों के साथ-साथ कई अन्य मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में समेकित बाल विकास सेवाएं (आईसीडीएस) द्वारा कवर की जानी वाली टीएचआर वितरण सेवाओं की भी जिलाधिकारी के द्वारा समीक्षा की की गई। इस दौरान उन्होंने आईसीडीएस द्वारा फंड, बैंक इशू सहित अन्य विषय पर उठाए गए सवाल का भी उसी समय समाधान किया और समय पर टीएचआर वितरण को सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।
डीपीएम रजि ने बताया कि  बैठक में जिलाधिकारी ने आईसीडीएस को चेतावनी देते हुए कहा कि हम सभी पांच साल से कम उम्र के बच्चों, गर्भवती महिलाएं, स्तनपान कराने वाली माताओं के सही स्वास्थ्य और पोषण के लिए काम करते हैं इसलिए इसमें किसी तरह कि लापरवाही नहीं हो। इसके अलावा उन्होंने पोषण, स्वास्थ्य सुविधाएं, जैसे कायाकल्प स्कोर, लक्ष्य असेसमेंट, फैमिली प्लानिंग,  आईएमआई, कोविड वैक्सीनेशन , एपीएचसी में डॉक्टर और नर्स की उपस्थिति, इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ-साथ सीएचसी, एपीएचसी और हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर कंस्ट्रक्शन से जुड़े मुद्दों पर आवश्यक दिशा -निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: