तीसरे दिन बिहार में 301 सत्र स्थलों पर 14013 लोगों को लगे टीके

• अब दवाई के साथ कड़ाई भी

• सभी के लिए सुरक्षित और असरदार है टीका

पटना-
राज्य के 301 सत्र स्थलों पर मंगलवार को 14013 कोरोना योद्धाओं को टीके लगाए गए। टीकाकरण के पहले दिन 18122 को एवं दूसरे दिन 14745 लोगों को टीके लगाए गए थे. सप्ताह में 4 दिन ही लोगों को टीके लगेंगे. अब अगला टीकाकरण गुरूवार को होगा.
प्रत्येक टीकाकरण केंद्र पर लाभार्थी के लिए समुचित व्यवस्था की गयी है. टीकाकरण के बाद टीकाकृत लाभार्थी की देखरेख भी की जा रही है. इसके लिए प्रत्येक सत्र स्थल पर 3 कक्ष बनाये गये हैं, जिसमें पहला कक्ष प्रतीक्षालय, दूसरा टीकाकरण कक्ष व तीसरा अवलोकन कक्ष बनाया गया है. अवलोकन कक्ष में टीकाकृत लाभार्थी को 30 मिनट तक स्वास्थ्यकर्मियों की निगरानी में रखा जा रहा है.

दवाई भी और कड़ाई भी:

जिन कोरोना योद्धाओं को कोरोना टीका का पहला डोज लगाया गया है, उन्हें 28 वें दिन दूसरा डोज दिया जाएगा. दूसरे डोज के 14 दिन बाद बाद ही कोरोना के प्रति रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है. इसलिए टीके के बाद भी सावधानी बरतनी जरुरी है. सावधानी के तौर पर मास्क का इस्तेमाल, शारीरिक दूरी एवं हाथों की सफाई का विशेष ख्याल रखने की जरूरत है. प्रधानमंत्री ने भी टीकाकरण लॉन्च के दौरान इस बात पर जोर देते हुए कहा है कि दवाई भी और कड़ाई भी.

कोविड-19 वैक्सीन सभी के लिए सुरक्षित:

कोविड टीका सभी प्रमाणित वैक्सीन पूरी प्रक्रिया के गुजरने का बाद ही स्वीकृत की गयी है और पूर्णतया सुरक्षित है। चरणवार तरीके से इसे सभी को उपलब्ध कराने की सरकार की योजना है । टीकाकरण के पश्चात लाभार्थी को किसी प्रकार की परेशानी के प्रबंधन के लिए सत्र स्थल पर एनाफलीसिस कीट एवं एईएफआई कीट की पर्याप्त संख्या में उपलब्धता सुनिश्चित की गयी है तथा इसके लिए संबंध में टीकाकर्मियों को आवश्यक प्रशिक्षण भी दिया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published.