दवाई व उचित आहार प्रबंधन से मधुमेह रोगी भी जी सकते हैं सामान्य जिंदगी : सिविल सर्जन

  • सदर अस्पताल में निःशुल्क मधुमेह जांच सह चिकित्सा परामर्श शिविर का सिविल सर्जन ने किया उद्घाटन
  • जीवन शैली में संतुलित भोजन के साथ योग और व्यायाम को भी स्थान दें मधुमेह रोगी

मुंगेर-

दवाई के साथ -साथ उचित आहार प्रबंधन कर मधुमेह रोगी भी जी सकते हैं सामान्य जिंदगी । उक्त बातें सोमवार को सदर अस्पताल परिसर में विश्व मधुमेह दिवस के अवसर पर 14 से 21 नवम्बर तक आयोजित निःशुल्क मधुमेह जांच सह चिकित्सा परामर्श शिविर का उद्घाटन करते हुए मुंगेर के सिविल सर्जन डॉ. हरेन्द्र आलोक ने कही। इस अवसर मुंगेर के गैर संचारी रोग डॉ. के.रंजन, राखी मुखर्जी सिहित कई महत्वपूर्ण लोग उपस्थित थे। उन्होंने बताया कि विश्व मधुमेह दिवस के अवसर पर 14 से 21 नवंबर तक जिला के सभी अस्पताल सहित अन्य स्वास्थ्य संस्थानों में निःशुल्क मधुमेह जांच सह चिकित्सा परामर्श शिविर का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें लोग निःशुल्क अपने डायबिटीज, ब्लड प्रेशर सहित अन्य जांच निःशुल्क करवा कर चिकित्सक से निःशुल्क सलाह भी ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि मधुमेह के रोगियों के लिए दवाई के साथ-साथ सही आहार प्रबंधन भी बहुत आवश्यक है। इसके लिए उन्हें अपने भोजन में एक तिहाई भाग के रूप में हरी साग – सब्जी का इस्तेमाल करना चाहिए ताकि शरीर को उचित मात्रा में विटामिन और मिनरल्स मिल सके। इसके साथ में रेशेयुक्त सब्जियों का प्रयोग एवं कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट का इस्तेमाल करने से हमारा शुगर लेवल नियंत्रित रहता है।

दवाई और संतुलित भोजन के साथ -साथ नियमित योग और व्यायाम करें मधुमेह रोगी :
मुंगेर के जिला गैर संचारी रोग पदाधिकारी डॉ. के.रंजन ने कहा कि मधुमेह के रोगियों को संतुलित भोजन, मधुमेह की दवा के साथ-साथ नियमित योगाभ्यास और व्यायाम करना आवश्यक है। इसके साथ ही एक निश्चित अंतराल के बाद मधुमेह की जांच भी कराना आवश्यक है। इसलिए जिला के सभी मधुमेह के रोगी सहित अन्य लोग भी सदर अस्पताल सहित जिला के अन्य अस्पताल या स्वास्थ्य केंद्रों पर जाकर 14 से 21 नवम्बर तक आयोजित की जा रही निःशुल्क मधुमेह सह चिकिसक परामर्श शिविर में मधुमेह की जांच करवा लें। उन्होंने बताया कि

  • बार-बार पेशाब लगना
  • अधिक प्यास लगना
  • बेवजह वजन का घटना
  • ज्यादा भूख लगना
    एवम हमेशा संक्रमण का होना मधुमेह के लक्षण हैं वहीं
    -संतुलित आहार लेना
  • नियमित व्यायाम करना
  • शराब और तम्बाकूयुक्त पदार्थों का इस्तेमाल नहीं करना
  • वजन एवम रक्तचाप पर नियंत्रण स्थापित करना और नियमित शर्करा की जांच कराना मधुमेह से बचने के उपाय हैं। उन्होंने बताया कि विश्व मधुमेह दिवस के अवसर पर निःशुल्क मधुमेह जांच और चिकित्सा और परामर्श शिविर का आयोजन ” यूनाइट फ़ॉर डायबिटीज ” अभियान के तहत किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: