परिवार नियोजन जागरूकता रथ को सिविल सर्जन ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

-परिवार नियोजन को लेकर जिले में जनवरी से मार्च तक चल रहा है संचार अभियान
-लोगों को परिवार नियोजन के बारे में दी जाएगी जानकारी, किया जाएगा जागरूक

भागलपुर-

जिले में परिवार नियोजन को लेकर चल रहे संचार अभियान का प्रचार- प्रसार तेज करने के लिए सोमवार को सिविल सर्जन विजय कुमार सिंह ने ई-रिक्शा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. ई-रिक्शा से भागलपुर सदर क्षेत्र में प्रचार- प्रसार किया जाएगा. मालूम हो कि जनवरी से 31 मार्च तक जिले में परिवार नियोजन को लेकर संचार अभियान चल रहा है.
महीने में 10 दिन ई- रिक्शा से प्रचार प्रसार किया जाएगा-
इस मौके पर सिविल सर्जन ने कहा कि क्षेत्र के लोगों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करने के लिए महीने में 10 दिन ई- रिक्शा से प्रचार प्रसार किया जाएगा. बुधवार और शुक्रवार को आरोग्य दिवस मनाया जाता है, इस दिन ई-रिक्शा से जिले के क्षेत्रों में परिवार नियोजन को लेकर लोगों को जागरूक किया जाएगा. लोगों को परिवार नियोजन के फायदे गिनाए जाएंगे. उन्हें समझाया जाएगा कि परिवार नियोजन से ना सिर्फ स्वास्थ्य के क्षेत्र में लोगों को फायदा होता है, बल्कि आर्थिक तौर पर खुशहाली रहती है.

नियोजन के अस्थाई तरीके भी बताए जाएंगे:
सिविल सर्जन विजय कुमार सिंह ने बताया कि परिवार नियोजन के अस्थाई तरीके भी लोगों को बताए जाएंगे. अंतरा, छाया, कॉपरटी और कंडोम के बारे में भी लोगों को जानकारी दी जाएगी.. इन संसाधनों का प्रयोग करने से दो बच्चों के बीच अंतराल 3 साल का हो सकेगा. 3 साल का अंतराल होने से बच्चे भी स्वस्थ रहते हैं और मां भी स्वस्थ रहती है.

सदर अस्पताल से निकाली गई जागरूकता रैली:
ई-रिक्शा को हरी झंडी दिखाने के बाद सदर अस्पताल से घंटाघर होते हुए कचहरी चौक होते हुए वापस सदर अस्पताल तक जागरूकता रैली निकाली गई. रैली के दौरान लोगों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक किया गया. उन्हें परिवार नियोजन से होने वाले फायदे के बारे में बताया गया.

मौके पर डीसीएम जफरुल इस्लाम, डॉ राजेश मिश्रा, डॉ. निनकुश अग्रवाल, आलोक कुमार, जितेंद्र कुमार, ज्ञानउदय प्रकाश, पूजा कुमारी, दीपा कुमारी, शिवम कुमार, सुष्मिता, सदर अस्पताल के प्रभारी डॉ एके मंडल प्रबंधक जावेद आदि मौजूद थे.
कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल:
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढकें ढंके.
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.