पालीगंज में जनसभा को संबोधित करते योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और भाजपा के स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ बिहार की राजधानी पटना में एक चुनावी सभा को संबोधित किया। बुधवार को पालीगंज में एनडीए प्रत्याशी के लिए वोट मांगने पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राजद और कांग्रेस भाकपा (माले) के रूप में आपके बीच एक नए कोरोना को छोड़ना चाहते हैं। भाकपा माले कोरोना से कम नहीं है। उन्होंने अपील की कि आप लोग इस षड्यंत्र को सफल नहीं होने देना।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में आपने कोरोना पर एक हद तक नियंत्रण कर लिया है। लेकिन राजद-कांग्रेस एक नए कोरोना के रूप में भाकमा माले को आपके बीच छोड़ना चाहते हैं। ये भारत के टूकड़े-टूकड़े करने की मंशा के साथ उच्च संस्थानों में नारे बाजी करते हैं। कांग्रेस और राजद से उन्हें समर्थन मिलना, भारत के राजनीतिक क्षेत्र में इससे बड़ा दुर्भाग्य कोई दूसरा नहीं हो सकता है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश को तोड़ने की मंशा के साथ आकर ये लोग देश में आतंकवाद, नक्सलवाद और उग्रवाद को फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। बिहार की जनता से मैं अपील करता हूं कि इन लोगों को इनके मकसद में सफल नहीं होने देना है।

सीएम योगी ने कहा कि बिहार में विकास और सुशासन का गठबंधन है। कांग्रेस ने देश के अंदर सर्वाधिक समय तक शासन किया। 2004 से 2014 तक राजद केंद्र में सहयोगी दल था। इस दौरान उन लोगों ने गरीबों को मकान, शौचालय, लाइट क्यों नहीं दी। आयुष्मान कार्ड क्यों नहीं दिया। किसान सम्नान निधि चालू क्यों नहीं की। मोदी जी ने कहा सबका साथ-सबका विकास। हमने सबके लिए काम किया है और इन योजनाओं का लाभ सबको मिल रहा है।

राजद और कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे लिए पूरा देश ही परिवार है। हमारा तो संकल्प है, ‘तेरा वैभव अमर रहे मां, हम दिन चार रहे न रहे।’ लेकिन इनका संकल्प है, ‘मेरा वैभव अमर रहे मां, तुम दिन चार रहो न रहो।’ यूपी सीएम ने कहा कि इनके लिए पार्टी और परिवार ही देश है। लेकिन हमारे लिए देश ही सबकुछ है। आदित्यनाथ ने कहा कि ये लोग देश के खिलाफ बंटवारे की राजनीति करते रहे हैं। 1947 में कांग्रेस ने भारत का दुर्भाग्यपूर्ण बंटवारा किया। अभी भी अपनी स्वार्थ के लिए वो इस तरह के कार्य कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: