फाइलेरिया से बचाव को हर किसी को अल्बेंडाजोल और डीईसी की दवा का सेवन जरूरी : सुभद्रा देवी

  • 10 वर्षों से फाइलेरिया से पीड़ित सुभद्रा देवी ने खुद भी खाई दवा और लोगों से भी की खाने की अपील की
  • बोली सुभद्रा कैसे हो गई पीड़ित पता नहीं, पर कहीं ना कहीं लापरवाही तो जरूर हुई

खगड़िया-

फाइलेरिया उन्मूलन को लेकर जिले में चल रहे एमडीए (मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन) अभियान की सफलता को लेकर स्वास्थ्य विभाग के साथ केयर इंडिया की टीम भी कदम से कदम मिलाकर अपनी जिम्मेदारी में जुटी हुई है। ताकि हर हाल में निर्धारित समयावधि के अंदर शत-प्रतिशत लोगों को दवाई का सेवन सुनिश्चित हो सके और अभियान सफल हो सके। इसी कड़ी में केयर इंडिया के डीपीओ-भीएल कृष्णा कुमार भारती के नेतृत्व में जिले के परबत्ता प्रखंड अंतर्गत राका गाँव में एमडीए अभियान चलाया गया। इस दौरान दवाई का सेवन कराने वाली स्वास्थ्य टीम 10 वर्ष से फाइलेरिया से पीड़ित सुभद्रा देवी (पति पवन साह) के घर पहुँची कि सुभद्रा ने उत्साह के साथ दवाई का सेवन किया एवं इस बीमारी से बचाव के लिए अन्य लोगों से भी दवाई सेवन करने की अपील की। सुभद्रा दाएं पैर में हाथी पाँव से पीड़ित हैं।

  • कैसे हो गई पीड़ित पता नहीं, पर कहीं ना कहीं लापरवाही तो जरूर हुई :
    दवाई सेवन के बाद सुभद्रा देवी ने बताया, मैं कैसे पीड़ित हो गई, इस बात की जानकारी तो नहीं है। पर यह सच है कि कहीं ना कहीं हमसे लापरवाही जरूर हुई होगी। इसलिए, मैं अन्य सभी लोगों से अपील करती हूँ कि इस बीमारी से बचाव के लिए निश्चित रूप से दवाई का सेवन करें। साथ ही बचाव के लिए सजग भी रहें और स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा बताए गए बचाव से संबंधित बातों का पालन करें। यही सबसे बेहतर कदम है। अन्यथा, थोड़ी सी चूक भी बड़ी परेशानी का सबब बन सकती है।
  • स्वास्थ्य टीम के सामने करें दवाई का सेवन :
    सुभद्रा देवी ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि स्वास्थ्य टीम के सामने ही दवाई का सेवन करें। दवाई पूर्णतः सुरक्षित है। इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है। मैं पीड़ित होने के बाबजूद भी स्वास्थ्य टीम के सामने दवाई का सेवन की और सुरक्षित हूँ। स्वास्थ्य टीम के सामने दवाई खाने से सबसे बड़ा फायदा यह है कि अगर आपको सामान्य साइड इफेक्ट होता भी है तो उसका तुरंत उपाय भी होगा। वहीं, उन्होंने कहा, मैं दूसरे पैर समेत शरीर के अन्य हिस्सों को सुरक्षित रखने के लिए दवाई का सेवन किया और आप पूरी सुरक्षित रहने के लिए निश्चित रूप से दवाई का सेवन करें।
  • कोविड प्रोटोकॉल का पालन के साथ एवं तय मानकों के अनुसार खिलाई जा रही है दवा :
    केयर इंडिया के डीपीओ-भीएल कृष्णा कुमार भारती ने बताया, अभियान को हर हाल में पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए जिले में लगातार एमडीए अभियान चल रहा है। जिसके दौरान कोविड प्रोटोकॉल के पालन के साथ एवं तय मानकों के अनुसार सुपरवाइजर के नेतृत्व में आशा कार्यकर्ताओं द्वारा योग्य व्यक्तियों को दवाई खिलाई जा रही है। वहीं, उन्होंने बताया, अभियान के दौरान जिले के सभी प्रखंडों में स्थानीय लोगों का भी सामुदायिक स्तर पर सकारात्मक सहयोग मिल रहा है एवं सभी लोग दवाई खाने के लिए आगे आ रहे हैं, जो सामुदायिक स्तर पर सकारात्मक बदलाव का बड़ा संकेत है। वहीं, उन्होंने बताया, हर धर्म, हर समुदाय के लोग दवाई का सेवन के लिए आगे आ रहे हैं और अभियान को लगातार गति मिल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *