बांका जिले में कोरोना टीका को लेकर जागरूकता अभियान जोरों पर

स्वास्थ्य विभाग की टीम शहर से लेकर गांव तक लोगों को कर रही जागरूक

केयर इंडिया और डब्ल्यूएचओ के सदस्य भी अभियान में कर रहे हैं सहयोग

बांका, 7 जून-

जिले में टीकाकरण में तेजी लाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। पंचायतों के साथ-साथ अब शहरी क्षेत्रों में भी टीका एक्सप्रेस काफी तेज गति से दौड़ रही है। टीका एक्सप्रेस न सिर्फ क्षेत्र में जाकर लोगों का टीकाकरण कर रही है, बल्कि जागरूक भी कर रही है। स्वासथ्य विभाग की टीम क्षेत्र में शहरी और ग्रामीण क्षेत्र की आबादी को टीके लेने के फायदे बता रही है। उन्हें समझा रही है कि अगर आपने टीका नहीं लिया तो क्या नुकसान उठाना पड़ सकता है।

शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ. सुनील कुमार चौधरी ने कहा कि जागरूकता कार्यक्रम चलाने से टीककाकरण में तेजी आई है। दरअसल, अभी भी हमारे समाज में कुछ ऐसे लोग हैं, जिनके मन में टीका के प्रति कुछ भ्रांतियां हैं जिसे दूर करना आ‌वश्यक है। यही कारण है कि स्वासथ्य विभाग की टीम लगातार लोगों के बीच जा रही है। शहर में या फिर ग्रामीण क्षेत्र में पहुंचने वाली टीका एक्सप्रेस के साथ स्वास्थ्य विभाग की टीम भी रहती है जो टीकाकरण के साथ-साथ जागरूकता फैलाने का भी काम करती है।

देवड़ा पहुंची अरबन टीका एक्सप्रेस: सोमवार को अरबन टीका एक्सप्रेस देवड़ा पहुंची, जहां लोगों का टीकाकरण के साथ-साथ जागरूकता कार्यक्रम भी चला। केयर इंडिया के डीटीएल डॉ. तौसीफ ने बताया कि टीका एक्सप्रेस के साथ हमलोग जाकर लोगों को जागरूक करने का भी काम कर रहे हैं। लोगों को मन में जो भी दुविधा है, उसे दूर करने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। इससे टीकाकरण में तेजी आने की उम्मीद है। जागरूकता कार्यक्रम में डब्ल्यूएचओ के रमन सिंह भी मौजूद थे।

जमुआ में भी लोगों को किया गया जागरूक: वहीं ग्रामीण टीका एक्सप्रेस सोमवार को जमुआ पहुंची। यहां भी लोगों के टीकाकरण के साथ-साथ जागरूकता कार्यक्रम भी चला। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ. सुनील कुमार चौधरी ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में लगातार हमलोग टीका एक्सप्रेस के जरिये लोगों का टीकाकरण और जागरूकता कार्यक्रम चला रहे हैं। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की टीम इस काम में काफी दिनों से लगी हुई है।

जिले में नौ सौ लोगों का हुआ टीकाकरण: उधर, दूसरी ओर सोमवार को जिले में कुल नौ सौ लोगों का टीकाकरण हुआ। इसमें डीएच बांका के तहत 18 से 44 साल के 10 युवाओं का टीकाकरण हुआ तो पीएचसी बांका के अंतर्गत 45 साल से अधिक उम्र के 90 लोगों का टीकाकरण किया गया। डॉ. चौधरी कहते हैं कि जबतक कोरोना की चेन पूरी तरह से टूट नहीं जाती है तब तक लोगों को गाइडलाइन का पालन करना चाहिए। बाहर जाते वक्त मास्क लगाना चाहिए और सामाजिक दूरी का पालन करना चाहिए। बाहर से घर आने पर 20 सेकेंड तक हाथ की धुलाई अवश्य करनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.