बांका जिले में मोबाइल वैन के जरिये टीकाकरण शुरू

सभी 12 प्रखंडों में आरबीएसके की टीम अभियान में जुटी
पंचायतों में केंद्र बनाकर लोगों का किया जा रहा टीकाकरण
बांका, 24 मई-

कोरोना के खिलाफ स्वास्थ्य विभाग का अभियान लगातार तेज होता जा रहा है। पहले जांच और इलाज, अब टीकाकरण अभियान में तेजी लाई जा रही है। स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्करों, बुजुर्गों और 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के साथ 18 से 44 साल के युवाओं का भी टीकाकरण अभी चल रहा है। इसे और गति देने के लिए सोमवार से जिले के सभी 12 प्रखंडों में मोबाइल वैन के जरिये टीकाकरण शुरू किया गया है। मोबाइल वैन में आरबीएसके की टीम है, जो पंचायतों में बने टीकाकरण केंद्र पर लोगों को कोरोना का टीका लगा रही है।
सिविल सर्जन डॉ. सुधीर कुमार महतो ने बताया कि जिले में टीकाकरण अभियान काफी सकारात्मक तरीके से चल रहा है। कोरोना का टीका लेने में जिले के लोग भी काफी उत्साह दिखा रहे हैं। इसी उत्साह को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने अभियान को एक और कदम आगे बढ़ाया है। आरबीएसके की टीम अब पंचायतों में जा-जाकर लोगों का टीकाकरण करेगी। इससे टीकाकरण अभियान को और गति मिलेगी। जितने ज्यादा से ज्यादा लोग कोरोना का टीका लेंगे, संक्रमण की चेन को तोड़ने में उतनी मदद मिलेगी।

किसी दुविधा में नहीं रहेः कोरोना को लेकर स्वास्थ्य विभाग लगातार गाइडलाइन जारी कर रहा है। इसमें टीका के बारे में भी जानकारी दी जा रही है। गाइडलाइन में यह बताया जा रहा है कि किसे टीका लेना चाहिए और किसे नहीं। 18 साल से अधिक उम्र के लगभग सभी लोगों को टीका लेने के लिए योग्य माना गया है। सिर्फ जो लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं, उन्हें तीन महीने बाद टीका लेना है। बाकि सभी लोग टीका ले सकते हैं। फिर भी अगर किसी तरह की दुविधा हो कि हमें टीका लेना चाहिए या नहीं, स्वास्थ्य विभाग की टीम टीकाकरण केंद्र पर तैनात रहती है, जो आपको गाइड करेगी। उचित सलाह देगी।
जिले में मोबाइल जांच पहले से ही चल रहीः मालूम हो कि कोरोना को मात देने के लिए जिले में पहले से ही मोबाइल वैन के जरिये लोगों की जांच चल रही है। जिले के सभी प्रखंडों में स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव-गांव जाकर लोगों की जांच रही है। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसे होम आइसोलेशन में भेज दिया जाता है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग का किट दिया जा रहा है। किट में कोरोना से बचाव के लिए दवा रहती है, जिसका डोज लेने की सलाह मरीज को दी जा रही है।

कोरोना की गाइडलाइन का करें पालनः कोरोना से बचाव के लिए गाइडलाइन का पालन करना बहुत जरूरी है। इस बीमारी को खत्म करने में सतर्कता की बहुत बड़ी भूमिका है। लोग जितना सतर्क रहेंगे, उतना ही जल्द कोरोना खत्म होगा। इसलिए घर से बाहर निकलते वक्त मास्क लगाएं। भीड़भाड़ में जाने से बचें। सामाजिक दूरी का पालन करें और दो गज की दूरी बनाकर रहें। घर में भी एक-दूसरे से बातचीत करते वक्त मास्क को लगाकर रखें। ऐसा करते रहने से कोरोना की चपेट में आने से बचे रहेंगे और दूसरे लोग भी संक्रमित नहीं होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.