बांका पहुंची वैक्सीन,जिले में कल से शुरू हो जाएगा टीकाकरण

पहले दिन 700 स्वास्थ्यकर्मियों को पड़ेगा टीका

बांका, 14 जनवरी

कोरोना की रोकथाम को लेकर जिले में टीकाकरण की तैयारी अंतिम चरण में है. पहले चरण का टीका कल शनिवार से दिया जाएगा. इसे लेकर पटना से भागलपुर होते हुए कोरोना का टीका बांका पहुंच गया है. जिले को 750 वायल टीका मिला है. पहले चरण में 6265 स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना का टीका दिया जाएगा.

टीकाकरण को लेकर सिविल सर्जन डॉ सुधीर कुमार महतो ने बताया कि कोरोना का टीका बांका पहुंच गया है. तैयारी अंतिम चरण में है. टीकाकरण को लेकर यहां के स्वास्थ्यकर्मियों को भी प्रशिक्षण दिया जा चुका है. शुक्रवार को बांका से सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और रेफरल अस्पताल में टीका भेजा जाएगा. एक दिन में एक केंद्र पर एक सौ लोगों को टीका दिया जाएगा और 45 दिनों तक टीका पड़ने वाले व्यक्ति की निगरानी की जाएगी.

आज कराया जाएगा पूर्वाभ्यास: कल से शुरू हो रहे टीकाकरण में किसी तरह की कमी न रहे, इसे लेकर शुक्रवार को एक बार फिर से पूर्वाभ्यास कराया जाएगा. मालूम हो कि 8 जनवरी को भी स्वास्थ्य विभाग ने पूर्वाभ्यास कराया था जो पूरी तरह से सफल रहा था. अगर पूर्वाभ्यास के दौरान कोई कमी पाई जाएगी तो उसे दुरुस्त कर दिया जाएगा.

सात केंद्रों पर पहले दिन 100- 100 लोगों को पड़ेगा टीका: जिले में पहले दिन 7 केंद्रों पर सौ-सौ लोगों को टीका लगाया जाएगा. टीकाकरण को लेकर सदर अस्पताल, बौसी और कटोरिया रेफरल अस्पताल, शंभूगंज, धोरैया, चांदन और बेलहर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर बूथ बनाया गया है. यहां पर टीकाकरण को लेकर पांच- पांच लोगों की एक टीम बनाई गई है.

पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों एवं पैरामेडिकल स्टाफ को पड़ेगा टीका: मालूम हो कि कोरोना का टीका तीन चरणों में दिया जाएगा. पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मी और पैरामेडिकल स्टाफ को टीका दिया जाएगा. दूसरे चरण में सरकारी कर्मचारी और गंभीर रोगों के मरीज, साथ ही कोरोना से उबर चुके व्यक्ति, तीसरे और आखिरी चरण में सभी लोगों को टीका दिया जाएगा.

कुछ इस तरह से होगा टीकाकरण: कोरोना का टीका लगवाने वाले स्वास्थ्यकर्मी अपने-अपने टीकाकरण केंद्र पर पहुंचेंगे. कतार में लगते ही वहां पर तैनात सिपाही उन्हें सैनिटाइज करेंगे. इसके बाद एक पर्ची दी जाएगी. पर्ची लेकर स्वास्थ्यकर्मी वेटिंग हॉल में जाकर बैठ जाएंगे. नंबर आते ही वह दूसरे टीकाकरण कक्ष में चले जाएंगे. जहां टीका लगने के साथ ही स्वास्थ्यकर्मी को मिली पर्ची पर टीका लगने का समय एएनएम दर्ज करेंगी. इसके बाद वह व्यक्ति सीधे तीसरे कक्ष यानी कन्वेंशन रूम जाकर आराम करने लगेंगे. आधा घंटा बीतने के बाद स्वास्थ्यकर्मी पर्ची के साथ बाहर निकलेंगे. वहां पर मौजूद सिपाही पर्ची के ऊपर समय लिखेंगे. इसके बाद व्यक्ति को अगले बार पड़ने वाले टीका की तारीख बता दी जाएगी. इसके बाद प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल:
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढके.
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *