बांका में 20 लाख से अधिक लोगों का हो गया है टीकाकरण

 -कोरोना टीका को लेकर जिले में लगातार चल रहा है अभियान-आमलोग कोरोना का टीका लेने में जमकर दिखा रहे उत्साह

बांका, 14 जनवरीजिले में कोरोना टीकाकरण अभियान काफी तेज गति से चल रहा है। लोग भी उत्साह के साथ बढ़-चढ़कर इसमें अपनी भागीदारी निभा रहे हैं। इसी का नतीजा है कि जिले में अबतक 20,41,067 लोगों का टीकाकरण हो चुका है। इसमें पहली और दूसरी, दोनों डोज लेने वाले लोग शामिल हैं। जिले में अब किशोरों का भी टीकाकरण शुरू हो गया है। 18 साल से अधिक उम्र के लोगों के साथ-साथ बड़ी संख्या में किशोर भी टीका लेने के लिए सामने आ रहे हैं।सिविल सर्जन डॉ. सुधीर कुमार महतो ने बताया कि जिले में टीकाकरण की रफ्तार अच्छी है। जिले के सभी लोगों का टीकाकरण जल्द से जल्द हो, इसे लेकर हमलोग लगातार प्रयार कर रहे हैं। पहली डोज लेने वालों की संख्या जिले में बेहतर है। साथ ही दूसरी डोज लेने के लिए भी लोग लगातार सामने आ रहे हैं। इसके अलावा अब किशोरों और किशोरियों को भी टीका लगाया जा रहा है। बड़ी संख्या में ये लोग भी टीका लेने के लिए सामने आ रहे हैं। इसी तरह स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्करों, बीमारों और बुजुर्गों को कोरोना टीका की तीसरी डोज भी दी जा रही है। जिनलोगों ने अभी तक कोरोना का टीका नहीं लिया है, उनसे मेरी अपील है कि जल्द से जल्द टीका लगवा लें।बांका पीएचसी में सबसे अधिक 2,33,308 लोगों का टीकाकरणः अभी तक जिले में जो 20,41,067 लोगों को टीका लगाया गया है। उनमें अमरपुर में 2,33,308, बांका पीएचसी में 2,33,558, बाराहाट में 1,46,373, बेलहर में 1,68,468, बौंसी में 1,81,666, चांदन में 1,53,041, धोरैया में 2,24,609, फुल्लीडुमर में 1,37,007, कटोरिया में 1,91,986, रजौन में 1,92,003 और शंभूगंज में 1,79,048 लोगों को कोरोना टीका लगाया गया है। बचे हुए लोगों को भी टीका देने के लिए लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इसके साथ-साथ जागरूकता कार्यक्रम भी चलाया जा रहा है। हालांकि अब काफी लोगों ने कोरोना का टीका ले लिया है, इसलिए लोग खुद भी कोरोना का टीका लेने के लिए सामने आ रहे हैं। इसके बावजूद लोगों को जागरूक करने का काम किया जा रहा है।तीसरी लहर से बचने के लिए कोरोना की गाइडलाइन का पालन जरूरीः जिले में कोरोना के नए मरीज फिर से मिलने लगे हैं। तीसरी लहर सामने खड़ी है। ऐसे में लोगों को इससे बचने के लिए सतर्कता बरतने की जरूरत है। कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करने की जरूरत है। घर से बाहर जाते वक्त मास्क लगाने और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए एक-दूसरे के बीच दो गज की दूरी बनाकर रहें। साथ ही बाहर से घर आने पर 20 सेकेंड तक हाथ की धुलाई अवश्य करें। घर में अगर कोई व्यक्ति बीमार पड़े तो उसको तत्काल डॉक्टर से दिखाने के लिए ले जाएं। डॉक्टर की सलाह के मुताबिक उस व्यक्ति का इलाज करें। अगर कोरोना जांच कराने के लिए डॉक्टर कहते हैं तो उसकी कोरोना जांच कराएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: