बांका में 560 स्वास्थ्यकर्मियों को पड़ा कोरोना का टीका

-टीका लगने के बाद निगरानी के लिए डॉक्टर थे मौजूद

बांका-

जिले में शनिवार को कोरोना टीकाकरण की शुरुआत हो गई. पहले दिन बांका में 560 स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना का टीका पड़ा.सदर जिले में पहले चरण में 6265 स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगना है. जिलाधिकारी सुहर्ष भगत ने सदर अस्पताल में फीता काटकर टीकाकरण की शुरुआत की. जिले का पहला टीका सफाई कर्मचारी गुड़िया कुमारी को दिया गया. मौके पर सिविल सर्जन डॉ सुधीर कुमार महतो और डीपीएम प्रभात कुमार राजू भी मौजूद थे.
टीकाकरण के उद्घाटन के बाद जिलाधिकारी सुहर्ष भगत ने कहां कि जिले में पहले चरण के टीकाकरण की शुरुआत हो गई है. पहले चरण में सफलतापूर्वक लोगों को टीका पड़ जाएगा. जिले के सभी सात केंद्रों पर बेहतर व्यवस्था की गई है.

संख्या घटे नहीं, इसलिए अधिक लोगों की बनाई गई सूची:
जिले में पहले दिन 700 लोगों को टीका पड़ना था. इसकी तैयारी जिला स्वास्थ्य समिति ने बेहतर तरीके से की थी. अगर कोई व्यक्ति इनमें से बीमार पड़ जाए तो उसके बदले किसे टीका देना था इसकी भी तैयारी कर रखी थी. सदर अस्पताल में 100 के बदले 150 लोगों की सूची बनाई गई थी.

हर केंद्र पर डॉक्टर कर रहे थे निगरानी: टीका पड़ने के बाद मरीज की 30 मिनट तक निगरानी की गई. इसके लिए हर केंद्र पर एक डॉक्टर की तैनाती की गई थी. साथ ही सभी केंद्रों पर एक-एक नोडल पदाधिकारी भी मौजूद रहे. हालांकि टीकाकरण के बाद किसी भी केंद्र कैंट से किसी तरह की समस्या सामने नहीं आई.

मेले जैसा दिख रहा था नजारा: टीकाकरण के दौरान को लेकर सदर अस्पताल समेत जिले के सभी अस्पतालों में मेले जैसा नजारा था. अस्पतालों को बैलून से सजाया गया था. सुबह से ही टीका लगवाने वाले स्वास्थ्यकर्मी व अन्य लोग केंद्र पर पहुंचने लगे थे. सुबह 11 बजे से सभी जगहों पर टीकाकरण की शुरुआत हुई.

स्वास्थ्यकर्मियों की टीम कर रही थी प्रक्रिया को पूरी: जिले के सभी केंद्रों पर टीकाकरण के दौरान स्वास्थ्यकर्मियों की बनाई गई टीम प्रक्रिया को पूरी कर रही थी. हर केंद्र पर तीन रूम बनाए गए थे. पहले रूम पर मरीज को पर्ची दी जाती थी. नंबर आने पर दूसरे रूम में मरीज को टीका लगाया जाता था और आखिरी कन्वेंशन रूम पर मरीज 30 मिनट तक निगरानी में रह रहे थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: