बिहार में आयोजित हस्तांतरण समारोह में भारत के सबसे बड़े टीका अभियान
के लिए जापान सरकार की सहायता के प्रति अभिस्वीकृति

पटना, 27 सितंबर: भारत भर में कोविड-19 टीकाकरण अभियान के लिए जापान सरकार द्वारा मुहैया कराई जा रही सहायता के अंतर्गत यूनिसेफ़ द्वारा हासिल किए गए कोल्ड चेन उपकरण (सीसीई) की पहली ख़ेप आज एक प्रतीकात्मक हस्तांतरण समारोह में बिहार सरकार को सौंपी गई. पहली ख़ेप में लगभग बीस हज़ार वैक्सीन कैरियर शामिल हैं।

यूनिसेफ़ इंडिया के उप प्रतिनिधि, यासुमासा किमुरा से वैक्सीन कैरियर ग्रहण करने के उपरांत बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कहा, “हम यूनिसेफ के ज़रिए कोल्ड चेन उपकरण बिहार की सहायता करने के लिए जापान सरकार के आभारी हैं। बिहार सरकार कोविड-19 से लड़ने के लिए प्रतिबद्ध है और 6 महीने में 6 करोड़ टीकाकरण के लक्ष्य को पूरा करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।
सीसीई से राज्य के टीकाकरण क्षमता में वृद्धि होगी जिससे कोविड-19 टीकाकरण के साथ-साथ बच्चों और महिलाओं के नियमित टीकाकरण को गति मिलेगी.
भारत में जापान सरकार के एम्बेसडर एक्स्ट्राऑर्डिनरी एन्ड प्लेनिपोटेंटीरी महामहिम सुजुकी सातोशी और यूनिसेफ इंडिया की प्रतिनिधि डॉ. यासमीन अली हक़ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से इस कार्यक्रम में शामिल हुए।
पटना में आयोजित कार्यक्रम में प्रत्यय अमृत, अतिरिक्त मुख्य सचिव, स्वास्थ्य विभाग, बिहार सरकार और यूनिसेफ़ बिहार की राज्य प्रमुख नफ़ीसा बिन्ते शफ़ीक़ समेत स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग, बिहार सरकार एवं यूनिसेफ के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

जापान सरकार द्वारा भारत के कोविड-19 महामारी बचाव अभियान की मदद करने के लिए घोषित कुल 93 लाख अमेरिकी डॉलर की सहायता राशि के हिस्से के रूप में बिहार सरकार को 100,000 फ्रीज़ फ़्री वैक्सीन कैरियर, दो वॉक-इन कूलर, तीन वॉक-इन फ्रीज़र, 20 कोल्ड चेन इक्विपमेंट रिपेयर और मेंटेनेंस टूलकिट और 2100 फ्रीज़ टैग (जो एक वैक्सीन फ्रीज प्रिवेंशन मॉनिटरिंग डिवाइस है), मिलेगा.

महामहिम सातोशी सुजुकी ने कहा, “मुझे पूरी उम्मीद है कि स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में हमारे संयुक्त प्रयासों से कोविड-19 महामारी के कारण होने वाले विनाशकारी प्रभाव को दूर करने में मदद मिलेगी एवं हमारे संबंधों को और भी अधिक ऊंचाइयों तक ले जाने का अवसर मिलेगा।

यूनिसेफ़ इंडिया की प्रतिनिधि डॉ. यासमीन अली हक़ ने कहा, “यूनिसेफ के माध्यम से जापान सरकार द्वारा भारत को सही समय पर यह बड़ी सहायता मिली है जब देश अपने टीकाकरण योग्य आबादी, विशेषकर कमज़ोर वर्ग के लोगों को कोविड टीका लगाने की दिशा में तेज़ी से आगे बढ़ रहा है.
पूरे भारत में पहले से ही 81 करोड़ से अधिक ख़ुराकें दी जा चुकी हैं और आने वाले दिनों में कोविड-19 टीकाकरण से देश में स्थिति सामान्य करने एवं आपातकालीन सेवाओं की सुरक्षित बहाली में मदद मिलेगी.
सभी स्तरों पर कोल्ड चेन सिस्टम की आपातकालीन क्षमता को सुदृढ़ करने के लिए जापान सरकार के वित्त पोषण का कोल्ड चेन उपकरण की ख़रीद में निवेश किया जा रहा है ताकि एक प्रभावी कोविड-19 टीकाकरण अभियान के अलावा महिलाओं और बच्चों के नियमित टीकाकरण को लंबी अवधि के लिए मज़बूती मिल सके. इसमें कोल्ड चेन सिस्टम का हिस्सा – वॉक इन कूलर, वॉक इन फ्रीज़र, सोलर डायरेक्ट ड्राइव, फ्रीज़ फ़्री वैक्सीन कैरियर, टूलकिट, फ्रीज़ टैग और वोल्टेज स्टेबलाइज़र्स की ख़रीद और वितरण शामिल होंगे तथा 25 राज्यों में टीकाकरण अभियान में सहायता करेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: