भागलपुर में कोरोना के 14 मरीज मिले, 9 हुए स्वस्थ

  • पिछले 15 दिनों से कोरोना के मामले लगातार कम होते जा रहे हैं
  • कोरोना का रिकवरी रेट लगभग 98 प्रतिशत
  • जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या 150 से भी कम
    -अभी भी कोरोना को लेकर एहतियात बरतने की जरूरत भागलपुर-

स्वास्थ्य विभाग का प्रयास अब रंग लाता दिख रहा है। सोमवार को जहां कोरोना का 4 महीने बाद सिर्फ एक मरीज मिला था, वहीं मंगलवार को 14 नए मामले सामने आए। दूसरी ओर 9 कोरोना के मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। पिछले 15 दिनों से कोरोना के मामले लगातार कम होते जा रहे हैं। पहले जहां एक दिन डेढ़ सौ तक मरीज मिल जा रहे थे, अब संख्या घटकर एक तक आ गई है। हालांकि इसके बावजूद लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। अगर कुछ और दिन लोग सतर्क रह गए तो बहुत संभव है कि कोरोना की चेन भागलपुर में पूरी तरह टूट जाएगी।
कोरोना के मामले लगातार कम होते जा रहे- सिविल सर्जन
सिविल सर्जन डॉ विजय कुमार सिंह ने बताया कि कोरोना के मामले लगातार कम होते जा रहे हैं। विभाग लगातार जागरूकता अभियान चला रहा है। जगह-जगह पर शिविर लगाकर जांच की जा रही है। इसका असर होता दिख रहा है। लोग भी जागरूक होते जा रहे हैं। यहां के लोगों ने कोरोना की गाइडलाइन का पालन अपनी दिनचर्या में शामिल कर लिया है। इसी का नतीजा है कि मामले लगातार कम होते जा रहे हैं।

98 प्रतिशत पहुंचा रिकवरी रेट:
जिले में कोरोना का रिकवरी रेट लगभग 98 प्रतिशत है। अभी तक लगभग 9200 मरीज मिले हैं। इनमें से 9000 से भी अधिक मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। अभी जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या 150 से भी कम है। जाहिर है कि जिले के लोगों ने स्वास्थ्य विभाग के कदम से कदम मिलाकर कोरोना की चेन तोड़ने में अपनी भूमिका निभाई है।

5,25,000 लोगों की अब तक हो चुकी है जांच:
सिविल सर्जन डॉक्टर विजय कुमार सिंह ने बताया कि जिले में अब तक 5,25,000 लोगों की कोरोना जांच हो चुकी है। तिलकामांझी चौक स्टेशन समेत शहर के भीड़भाड़ वाले इलाके में लगातार लोगों की जांच की जा रही है। इसके अलावा सदर अस्पताल समेत सभी सरकारी अस्पतालों में जांच की व्यवस्था है। कोरोना के कम मरीज होने में जांच की संख्या बढ़ना भी एक महत्वपूर्ण कारण है. ।

अभी भी कोरोना की गाइडलाइन कब करें पालन: सिविल सर्जन ने बताया कि अभी भी लोगों को कोरोना को लेकर गाइडलाइन का पालन करने की जरूरत है. । बहुत ही मेहनत से हमलोग इस मुकाम तक पहुंचे हैं. अगर थोड़ी सी ढिलाई करेंगे तो वापस कोरोना की चपेट में आ सकते हैं. इसलिए अभी कोई भी ढिलाई नहीं करें. । घर से बाहर निकलें तो मास्क जरूर लगाएं, सामाजिक दूरी का पालन करें और . भीड़भाड़ से बचें. ।

कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल:
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढकें.
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.