महाअभियान में 53650 लोगों को पड़े कोरोना के टीके

-जिलेभर में बनाए गए थे 330 कोरोना टीकाकरण केंद्र
-टीका लेने के लिए सुबह से ही लाभुक आ रहे थे केंद्र पर
बांका-
कोरोना टीकाकरण को लेकर मंगलवार को जिले में अभियान चलाया गया। जिले भर में बनाए गए 330 टीकाकरण केंद्र पर सुबह से ही काफी संख्या में लोग टीका लेने के लिए पहुंच रहे थे। यही कारण रहा कि लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लिया गया। जिले में 50000 लोगों को टीका देने का लक्ष्य रखा गया था और लगभग 53650 हजार लोगों को कोरोना का टीका दिया गया। टीकाकरण अभियान को सफल बनाने में स्वास्थ्यकर्मी लगे रहे। एएनएम और डाटा ऑपरेटर जहां केंद्रों पर समय से पहले पहुंच गए थे, वहीं आंगनबाड़ी सेविका और सहायिका, आशा कार्यकर्ता, बीएलओ और विकास मित्र लोगों को टीकाकरण केंद्रों तक लाते दिखे।
सिविल सर्जन डॉ, सुधीर कुमार महतो ने बताया कि मंगलवार को चलाए गए अभियान में काफी संख्या में लोगों ने कोरोना का टीका लिया । खास बात यह रही दूसरा डोज लेने वाले भी काफी संख्या में केंद्रों तक पहुंचे। जो लोग टीका लेने से रह गए हैं, उनसे मेरी अपील है कि वह भी जल्द से जल्द टीका ले लें। अभी टीकाकरण चलता रहेगा। प्रतिदिन सभी प्रखंडों में टीकाकरण चलता रहेगा। कोरोना से बचने के लिए टीका लेना बहुत जरूरी है, इसलिए जो लोग छूट गए हैं वे जल्द से जल्द अपने नजदीकि केंद्रों पर जाकर कोरोना का टीका ले लें।
सदर प्रखंड में 5000 हजार लोगों ने लिए टीकेः दूसरी ओर बांका सदर प्रखंड के तहत 30 केंद्र बनाए गए थे, जहां पर कि 5000 हजार लोगों ने कोरोना के टीके लिए। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ. सुनील कुमार चौधरी ने बताया कि टीका लेने वालों की कतारें सुबह से लग गई थीं। सभी स्वास्थ्यकर्मी भी टीकाकरण केंद्रों पर समय से पहले पहुंच गए थे। इस वजह से लाभुकों को टीका लेने में किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई। टीका देने के बाद सभी लाभुकों को 30 मिनट तक निगरानी में रखा गया। किसी तरह की परेशानी नहीं होने पर सभी लोगों को घर जाने दिया गया। साथ ही जिन लाभुकों ने कोरोना टीका का पहला डोज लिया, उन्हें समय पर आकर दूसरा डोज लेने के लिए कहा गया।
306 लोगों की हुई जांचः टीकाकरण के साथ ही कोरोना जांच भी जारी रही। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के तहत 206 लोगों की एंटीजन किट से जांच की गई। जांच में कोई भी व्यक्ति संक्रमित नहीं मिला। साथ ही 100 लोगों के सैंपल आरटीपीसीआर मशीन से जांच के लिए लिया गया। डॉ. चौधरी ने बताया कि यह बात सही है कि जांच में कोई भी व्यक्ति संक्रमित नहीं मिला, लेकिन सभी लोगों को सतर्कता के साथ रहने के लिए कहा गया। घर से बाहर जाते वक्त अनिवार्य़ तौर पर मास्क लगाने के लिए कहा गया। साथ ही सामाजिक दूरी का पालन करते हुए एक-दूसरे के बीच दो गज की दूरी बनाकर रहने के लिए कहा गया। इसके अलावा बाहर से घर आने पर 20 सेकेंड तक हाथ की धुलाई अनिवार्य तौर पर करने के लिए कहा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: