मुखिया ने मदरसा में टीकाकरण कैंप लगाया, 17 युवक-युवतियों ने लिया टीका

-बाराहाट प्रखंड की नारायणपुर पंचायत के मुखिया मोहम्मद असरार के प्रयास से हुआ टीकाकरण
-कोरोना से बचाव को लेकर जिले में अभियान जारी, टीकाकरण को लेकर लगातार चल रहा अभियान
बांका, 19 जनवरी।
कोरोना से बचाव को लेकर जिले में टीकाकरण अभियान जोर-शोर चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन टीकाकरण में अपनी भूमिका तो निभा ही रहा है, लेकिन समाजसेवी और स्थानीय जनप्रतिनिधि भी इसमें अपनी भूमिका निभा रहे हैं। इसी क्रम में बाराहाट प्रखंड की नारायणपुर पंचायत के मुखिया मोहम्मद असरार ने कैथाटिक्कर मदरसा में 15 से 18 वर्ष के युवकों-युवतियों के लिए टीकाकरण कैंप का आयोजन करवाया और आसपास के कुल 17 युवकों व युवतियों को कोरोना का टीका दिलवाया। इस क्रम में टीकाकरण कैंप को सफल बनाने के लिए पिरामल के डीपीएल मासूम रेजा एवं बीएचएम अवध किशोर श्यामला ने महत्वपूर्ण योगदान दिया।
मुखिया मोहम्मद असरार ने बताया कि कोरोना को खत्म करने के लिए सभी लोगों को एक साथ आना होगा। स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन के लोग इसमें सहयोग कर ही रहे हैं, लेकिन इसमें आमलोगों को भी सहभागिता निभानी चाहिए। अब जब तीसरी लहर आ चुकी है तो टीका लेने में लोगों को देर नहीं करनी चाहिए। जितना जल्द सभी लोग कोरोना का टीका ले लेंगे, उतना ही जल्द कोरोना पर हमलोग काबू पा लेंगे। हम जनप्रतिनिधियों की भूमिका बहुत ही अहम है। खासकर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को समझाने में हमलोग काफी महत्वपूर्ण काम करते सकते हैं। ऐसा कर भी रहे हैं।
अब युवाओं को कर रहे जागरूकः मोहम्म असरार कहते हैं कि टीककारण की जब शुरुआत हुई थी तो आमलोगों को इसके प्रति जागरूक करने का काम किया। अब युवाओं को जागरूक करने का काम कर रहा हूं। हालांकि युवाओं को जागरूक करने में ज्यादा परेशानी नहीं होती है। उन्हें यह समझ होती है कि कोरोना का टीका उन्हीं के फायदे के लिए है। पहले महिलाओं को समझाने में जरूर थोड़ी परेशानी होती है। हालांकि अब ऐसा नहीं है। अब सभी लोग समझ गए हैं। बस उन्हें जानकारी देकर केंद्र तक लाने का काम करना पड़ता है।
गाइडलाइन का पालन भी जरूरीः मुखिया कहते हैं कि अभी कोरोना की तीसरी लहर चल रही है। जब पहली लहर आई थी तो हमलोग उस दौरान काफी एक्टिव रहते थे। भीड़भाड़ नहीं लगाने देते थे। अब फिर से वहीं करना पड़ेगा। गांव के लोगों को फिर से जागरूक करना पड़ेगा। मास्क लगाने और हाथ की धुलाई के बारे में बताना पड़ेगा। बेवजह घरों से नहीं निकलने की अपील करना पड़ेगा। ऐसा हो भी रहा है, लेकिन इसे और तेज करने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: