लखीसराय के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में स्वास्थ्य शिविर लगाकर लोगों का किया जा रहा है टीकाकरण

  • जिला के विभिन्न नगर निकाय क्षेत्र में शत- प्रतिशत लोगों का किया जा चुका है टीकाकरण
  • जिला के बाढ़ प्रभावित पंचायतों में चलंत टीम के जरिये लोगों की स्वास्थ्य जांच एवं टीकाकरण

लखीसराय, 16 अगस्त| जिला के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में स्वास्थ्य जांच शिविर लगाकर लोगों के स्वास्थ्य की जांच के साथ ही कोरोना टीकाकरण का कार्य भी किया जा रहा है। उक्त बातें लखीसराय के जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. अशोक कुमार भारती ने कही। उन्होंने बताया कि इससे पूर्व लखीसराय नगर परिषद के सभी वार्डों, बड़हिया नगर पंचायत और सूर्यगढ़ा नगर पंचायत के सभी लोगों का शत-प्रतिशत टीकाकरण का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। अब जिला के ग्रामीण क्षेत्रों के विभिन्न पंचायतों में लोगों के शत- प्रतिशत टीकाकरण के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।
चलंत स्वास्थ्य टीम के जरिये जिला के बाढ़ प्रभावित पंचायतों में सभी लोगों की की जा रही है स्वास्थ्य जांच
उन्होंने बताया कि जिला के विभिन्न बाढ़ प्रभावित ग्राम पंचायतों में चलंत स्वास्थ्य टीम के जरिये लोगों के स्वास्थ्य की नियमित जांच की जा रही है। इसके साथ ही सभी लोगों को कोरोना का टीका लगाने का काम भी लगातार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की मोबाइल टीम नाव के सहारे गंगा नदी के बाढ़ से घिरे लोगों के बीच जाकर उनके स्वास्थ्य जांच के साथ उन्हें कोरोना की वैक्सीन भी लगा रहे हैं।
कोरोना वायरस के संक्रमण की संभावित तीसरी लहर के बीच सभी लोग करें कोरोना गाइड लाइन का अक्षरशः पालन :
उन्होंने बताया कि जिले में अभी भले ही कोरोना संक्रमण के मामलों में काफी कमी आई है| बावजूद इसके अभी संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं है। संक्रमण की सम्भावित तीसरी लहर के बीच अभी भी लोगों को कोरोना गाइड लाइन का अक्षरशः पालन करना अनिवार्य है अन्यथा जिला को फिर से कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से बचाया नहीं जा सकता है। अभी भी जिला वासी को मास्क का नियमित प्रयोग, शारीरिक दूरी के नियम का पालन और कुछ भी छूने की स्थिति में या एक निश्चित अंतराल पर हाथों की साफ-सफाई के लिए साबून या हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना अनिवार्य है। इसके बाद ही जिला को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखा जा सकता है।
इन मानकों का करें पालन और कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर :

  • मास्क का उपयोग और शारीरिक दूरी का पालन जारी रखें।
  • अनावश्यक घरों से बाहर नहीं निकलें और भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।
  • विटामिन-सी युक्त पदार्थों का अधिक सेवन।
  • साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें और सैनिटाइजर का उपयोग करें।
  • नियमित तौर पर लगातार साबुन या अल्कोहल युक्त पदार्थों से अच्छी तरह हाथ धोएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: