शत-प्रतिशत लोगों के वैक्सीनेशन को लेकर जिले में तेज हुआ कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान

  • शहरी क्षेत्र के सभी वार्डों में लगातार शिविर आयोजित कर लोगों को दी जा रही है वैक्सीन
  • संभावित तीसरे लहर से बचाव के लिए कोविड-19 जाँच अभियान तेज

खगड़िया-

कोविड-19 संक्रमण की संभावित तीसरी लहर से बचाव एवं सुरक्षा के मद्देनजर जिले में वैक्सीनेशन एवं जाँच अभियान तेज कर दिया गया है। ताकि जल्द से जल्द जिले के शत-प्रतिशत लोगों का वैक्सीनेशन सुनिश्चित हो सके और जिले के एक भी व्यक्ति वैक्सीन से लेने से वंचित नहीं रहे। वहीं, इस मिशन को सफल बनाने के लिए शहरी क्षेत्र के सभी वार्डों में लगातार वैक्सीनेशन शिविर का आयोजन कर लोगों को वैक्सीन दी जा रही है | साथ ही लगातार अभियान चलाकर लोगों को वैक्सीन लेने के लिए प्रेरित भी किया जा रहा है।

  • जिले में लगातार चल रहा है वैक्सीनेशन अभियान, लोगों का भी मिल रहा है सहयोग :
    जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ देवनंदन पासवान ने बताया, जल्द से जल्द शत-प्रतिशत लोगों का वैक्सीनेशन हो सके, इस उद्देश्य से जिले में लगातार वैक्सीनेशन अभियान चल रहा है। जिसके तहत जगह-जगह शिविर का आयोजन कर लोगों को सुविधाजनक तरीके से वैक्सीन दी जा रही है। सबसे अच्छी बात यह है कि वैक्सीनेशन शिविर के दौरान लोगों का भी सहयोग मिल रहा है, जो सामुदायिक स्तर पर सकारात्मक बदलाव का बड़ा संकेत है।
  • बेलदौर पीएचसी में ग्रामीण चिकित्सकों को दिया गया कोविड और कालाजार का प्रशिक्षण :
    केयर इंडिया के डीटीएल अभिनंदन आनंद ने बताया, कोविड-19 जाँच एवं वैक्सीनेशन अभियान को और तेज गति देने के लिए ग्रामीण चिकित्सकों का भी सहयोग लिया जाएगा। ताकि जल्द से जल्द शत-प्रतिशत लोगों का वैक्सीनेशन और लक्षणयुक्त व्यक्तियों का समय पर जाँच सुनिश्चित हो सके। इसको लेकर शुक्रवार को जिले के बेलदौर पीएचसी में स्वास्थ्य विभाग एवं केयर इंडिया द्वारा संयुक्त रूप से ग्रामीण चिकित्सकों को प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें पीएचसी अंतर्गत सभी चिह्नित ग्रामीणों चिकित्सकों को इस महामारी के खिलाफ खुद का ख्याल रखते हुए बेहतर कार्य करने की विस्तृत जानकारी दी गई। ताकि खुद का बचाव करते हुए ग्रामीण चिकित्सक भी इस महामारी के खिलाफ बेहतर कार्य कर सकें और इस अभियान को और तेज गति मिल सके ।
  • मरीजों को जाँच के लिए नजदीकी स्वास्थ्य संस्थान भेजने में करेंगे सहयोग :
    केयर इंडिया के डीटीओ-ऑन चंदन कुमार ने बताया, ग्रामीण चिकित्सक अपने क्षेत्र के मरीजों को कोविड-19 जाँच कराने के लिए प्रेरित करेंगे। ताकि ससमय उन्हें बीमारी की सही जानकारी मिल सके। इसके अलावा ऐसे मरीजों को जाँच कराने में किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो, इसके लिए ग्रामीण चिकित्सक नजदीकी स्वास्थ्य संस्थान पहुँचाने में भी सहयोग करेंगे। साथ ही ऐसे मरीजों को चिह्नित कर स्थानीय पीएचसी को भी जानकारी उपलब्ध करेंगे। इससे ना सिर्फ ऐसे मरीजों का समय पर जाँच और सही बीमारी की जानकारी सुनिश्चित होगी। बल्कि, संक्रमण का चेन भी लंबा नहीं होगा।
  • होम आइसोलेट मरीजों को समुचित उपचार की व्यवस्था उपलब्ध कराने में करेंगे सहयोग :
    बेलदौर पीएचसी प्रभारी डॉ सुभाष रंजन झा ने बताया, जाँच में संक्रमित पाए जाने के बाद होम आइसोलेट में रहने वाले मरीजों को समुचित उपचार की व्यवस्था उपलब्ध कराने में भी ग्रामीण चिकित्सक द्वारा सहयोग किया जाएगा। जैसे कि, ऐसे मरीजों की स्थिति गंभीर होने पर ग्रामीण चिकित्सक के माध्यम से सूचना स्थानीय स्वास्थ्य संस्थानों को दी जाएगी। जिसके बाद आगे की प्रक्रिया की जाएगी।
  • प्रति मरीज पर ग्रामीण चिकित्सक को मिलेंगे 200 रूपये
    केयर इंडिया के प्रखंड प्रबंधक चंदन कुमार पाठक ने बताया, ग्रामीण चिकित्सक को मरीज की जाँच एवं देखरेख समेत अन्य सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने के पश्चात 200 रूपये प्रति मरीज के हिसाब से दिया जाएगा। यह राशि खाते के माध्यम से भुगतान किया जाएगा । यह सुविधा प्रशिक्षण प्राप्त ग्रामीण चिकित्सकों को ही दी जाएगी।
  • इन मानकों का करें पालन और कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर :
  • मास्क का उपयोग और शारीरिक दूरी का पालन जारी रखें।
  • विटामिन-सी युक्त पदार्थों का अधिक सेवन करें।
  • अनावश्यक घरों से बाहर नहीं निकलें और भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।
  • लक्षण महसूस होने पर कोविड-19 जाँच कराएं।
  • बारी आने पर निश्चित रूप से वैक्सीनेशन कराएं और दूसरों को भी प्रेरित करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *