शहरी क्षेत्र के एएनएम को परिवार नियोजन को लेकर दिया गया प्रशिक्षण

-एएनएम क्षेत्र में जाकर लोगों को परिवार नियोजन के फायदे के बारे में बताएंगी
-परिवार नियोजन सामग्री का इस्तेमाल किस तरह करना है, इसकी जानकारी देंगी

भागलपुर, 14 फरवरी-

सदर अस्पताल में शहरी क्षेत्र की एएनएम को परिवार नियोजन को लेकर प्रशिक्षण दिया गया। उन्हें अंतरा और छाया के इस्तेमाल के बारे में जानकारी दी गई, जिसे वह क्षेत्र में जाकर लोगों को बताएंगी। साथ ही एफपीएलएमआईएस और व्हाट्सएप मैसेज के जरिये परिवार नियोजन को लेकर मिल रही सुविधाओं के बारे में जानकारी दी गई। ट्रेनिंग देने का काम केयर इंडिया के एफपीसी आलोक कुमार और जितेंद्र कुमार सिंह ने किया। मौके पर शहरी क्षेत्र के कोऑर्डिनेटर दयानंद मिश्रा भी मौजूद थे।  
दयानंद मिश्रा ने बताया कि शहरी क्षेत्र की एएनएम को फैमिली प्लानिंग लॉजिस्टिक इनफॉरमेशन सिस्टम (एफपीएलएमआईएस) का प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान सभी लोगों को परिवार नियोजन से संबंधित सामग्री को ऑनलाइन कैसे प्राप्त करना है, इसकी जानकारी दी गई। इंडेंट करने से लेकर रिसीव करने के तरीके प्रशिक्षण के दौरान बताए गए। कंडोम, कॉपर टी, अंतरा आदि सामग्री को ऑनलाइन प्राप्त करने की जानकारी प्रशिक्षण के दौरान दी गई। सामग्री प्राप्त कर क्षेत्र में इसका प्रचार-प्रसार से लेकर वितरण करने तक के बारे में प्रशिक्षण के दौरान बताया गया। प्रशिक्षण ले रही एएनएम को सभी बारीकी को समझ कर क्षेत्र में बेहतर तरीके से काम करने के लिए कहा। 
तीन तरीके से प्राप्त कर सकेंगे परिवार नियोजन की सामग्रीः प्रशिक्षण के दौरान बताया गया कि परिवार नियोजन सामग्री को ऑनलाइन तीन तरीके से मंगाया जा सकता है। पहला मोबाइल एप के जरिये, दूसरा मोबाइल से मैसेज कर और तीसरा कंप्यूटर के जरिये ऑनलाइन मंगवा सकते हैं। एएनएम इसे मोबाइल एप और मैसेज के जरिये मंगा सकती हैं, जबकि स्टोर कीपर मैसेज और कंप्यूटर से ऑनलाइन इंडेंट कर भी मंगवा सकते हैं। पहले क्षेत्र के लोगों की जरूरतों के मुताबिक इंडेंट करेंगे। सामग्री आ जाने के बाद फिर उसका क्षेत्र के लोगों के बीच वितरण करेंगी।
व्हाट्सएप पर मैसेज भेजकर परिवार नियोजन से संबंधित सभी कुछ जानें : व्हाट्सएप पर मैसेज भेजकर भी लोग परिवार नियोजन से संबंधित जानकारी ले रहे हैं। तकनीक के जमाने में लोग इसका भरपूर इस्तेमाल कर रहे हैं। जिनलोगों के पास ज्यादा समय नहीं रहता है, वे लोग एक मैसेज भेजकर परिवार नियोजन से संबंधित हर तरह की जानकारी ले रहे हैं। दयानंद मिश्रा ने बताया कि यह बात सही है कि व्हाट्सएप नंबर पर सेवा मिलने से लोगों को काफी सहूलियत हो गई है। जिस काम में घंटों लग जाते थे, वह अब मिनटों में हो रहा है। घर बैठे एक मैसेज भेजकर लोग परिवार नियोजन से संबंधित सारी जानकारी जुटा ले रहे हैं। हां, अगर लोग व्हाट्सएप के जरिये नहीं समझ पाते हैं तो उनके लिए तो हमलोग हैं ही। इसलिए एएनएम को प्रशिक्षण के दौरान व्हाट्सएप मैसेज पर मिल रही सुविधाओं के बारे में प्रशिक्षण दिया गया। वे क्षेत्र में जाकर लोगों को इसके फायदे और इसका इस्तेमाल कैसे करना है, इस बारे में लोगों को बताएंगी। 
व्हाट्सएप नंबर पर मैसेज भेज ऐसे लें जानकारीः इस सुविधा का फायदा उठाने के लिए सबसे पहले 9031691691 पर हाय लिखकर व्हाट्सएप करें। इसके बाद उधर से आपका नाम और पता पूछा जाएगा। फिर एक-एक कर परिवार नियोजन से संबंधित जानकारी आपको मिलती रहेगी। आप अपनी समस्या व्हाट्सएप करें फिर उधर से उसका समाधान आएगा। यह सेवा केयर इंडिया उपलब्ध करवा रही है और यह सेवा उनलोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित होगी, जो किसी के सामने अपनी परेशानी साझा करने से झिझक रखते हैं। चाहे वह डॉक्टर या कोई अन्य स्वास्थ्यकर्मी ही क्यों न हों।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: