सदर अस्पताल में दीदी की रसोई की शुरुआत

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वर्चुअल माध्यम से किया उद्घाटन
मरीजों को अब अस्पताल में ही मिल सकेगा पौष्टिक भोजन
-30 बेड के मातृ शिशु अस्पताल का शिलान्यासः

भागलपुर, 10 अगस्त| सदर अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले मरीजों को अब जीविका दीदी के हाथों का बना हुआ स्वादिष्ट भोजन मिल सकेगा। मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वर्चुअल माध्यम से सदर अस्पताल में नवनिर्मित दीदी की रसोई का उद्घाटन किया। सदर अस्पताल में जीविका दीदी रसोई के तहत मरीजों को चार बार पौष्टिक नाश्ता व भोजन मिलेगा। सुबह दूध, अंडा, सेब, केला व ब्रेड, दोपहर में चावल, रोटी, दाल, हरी सब्जी व सलाद, शाम में चाय बिस्किट व रात्रि में रोटी, चावल, दाल, हरी सब्जी व सलाद देने की बात कही जा रही है। दीदी की रसोई में मेनू व समय पर भोजन से नाश्ता तक उपलब्ध रहे, इसका स्वास्थ्य विभाग ध्यान रखेगा। बाहरी लोगों के लिए भी सुविधा चालू की जाएगी। बाहरी लोग भी पैसा देकर दीदी की रसोई में बने स्वादिष्ट भोजन का आनंद ले सकेंगे। हालांकि मरीजों के लिए यह बिल्कुल फ्री रहेगा।
30 बेड के मातृ शिशु अस्पताल का शिलान्यासः
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदर अस्पताल में दीदी की रसोई के उद्घाटन के साथ-साथ 30 बेड के मातृ शिशु अस्पताल का भी शिलान्यास किया। इस अस्पताल के बन जाने से सदर अस्पताल में एक ही छत के नीचे जच्चा और बच्चा का इलाज हो सकेगा। सिविल सर्जन डॉ. उमेश कुमार शर्मा ने बताया कि इस अस्पताल को जल्द से जल्द बनाकर सेवा शुरू कराई जाएगी। अस्पताल शुरू हो जाने से एक जगह पर ही जच्चा और बच्चा का इलाज हो सकेगा।
नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में एमएनसीयू का शिलान्यासः
इसके अलावा नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में भी एमएनसीयू के निर्माण कार्य का शिलान्यास मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वर्चुअल माध्यम से की। नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में यह सुविधा शुरू होने से गंगा पार के मरीजों को भागलपुर नहीं जाना पड़ेगा। उन्हें नवगछिया में ही यह सुविधा मिलेगी। मालूम हो कि नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में इलाज कराने के लिए जिले के साल प्रखंडों के मरीज आते हैं।

जेएलएनएमसीएच में छात्रावास का उद्घाटनः
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल (जेएलएनएमसीएच) में सीनियर रेसिडेंट के लिए 50 बेड के छात्रावास का उद्घाटन किया तो जूनियर रेसिडेंट के लिए 50 बेड का छात्रावास का उद्घाटन किया। इसके अलावा छात्राओं के लिए भी 25 बेड के छात्रावास का उद्घाटन किया। जेएलएनएमसीएच में एक साथ तीन छात्रावास के उद्घाटन से सीनियर औऱ जूनियर रेजिडेंट के साथ छात्रों को भी सहूलियत होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.