स्वास्थ्य विभाग के सलाहकार ने मायागंज अस्पताल का लिया जायजा

-मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं के बारे में अधीक्षक से ली जानकारी
-अस्पताल की व्यवस्था से संतुष्ट दिखे स्वास्थ्य विभाग के सलाहकार
भागलपुर, 20 अप्रैल-
स्वास्थ्य विभाग के सलाहकार रिटायर्ड आईएएस केपी साहा ने बुधवार को मायागंज अस्पताल का जायजा लिया। उनके साथ वरीय फिजिशियन डॉ. हेमशंकर शर्मा और अस्पताल मैनेजर सुनील कुमार गुप्ता, डीपीएम फैजान आलम अशर्फी और केयर इंडिया के डीटीएल निनकुश अग्रवाल थे। सुबह साढ़े नौ बजे वह मायागंज अस्पताल पहुंचे और अधीक्षक डॉ. असीम कुमार दास से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने मेडिसीन, रेडियोलॉजी और ब्लड बैंक का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने विभाग में भर्ती होने वाले मरीजों के बारे में भी जानकारी ली। ब्लड बैंक की चिकित्सा पदाधिकारी ने उन्हें वहां पर मौजूद सुविधाओं के बारे में जानकारी दी। बताया गया ब्लड बैंक में 213 यूनिट खून उपलब्ध है।
अस्पताल की व्यवस्था से संतुष्ट दिखेः केपी साहा मायागंज अस्पताल की व्यवस्था से संतुष्ट दिखे। खासकर अस्पताल में मरीजों की जांच से लेकर इलाज तक की सुविधओं को उन्होंने संतोषप्रद बताया। केपी साहा ने कहा कि अस्पताल की व्यवस्था बेहतर है। मरीजों का बेहतर तरीके से इलाज किया जा रहा है। यहां पर सभी कुछ व्यवस्थित है। डॉक्टर और अन्य स्वास्थ्यकर्मी मरीजों के साथ सहयोग करते दिखे। यह बहुत ही अच्छी बात है। इस दौरान अधीक्षक ने उन्हें कोरोना की तीसरी लहर के बाद अस्पताल में इलाज कराने के लिए आने वाले मरीजों की संख्या में हो रही बढ़ोतरी के बारे में जानकारी दी। उन्हें बताया गया कि अस्पताल में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही और उनका बेहतर तरीके से इलाज किया जा रहा है।
जच्चा -बच्चा और वार्ड पर फोकसः अस्पताल अधीक्षक डॉ. असीम कुमार दास ने बताया कि अस्पताल की व्यवस्था से वह संतुष्ट दिखे। उनका फोकस जच्चा और बच्चा के बेहतर इलाज पर था, जो उन्हें यहां पर दिखाई भी दिया। मायागंज अस्पताल में हमेशा से मां और बच्चे की देखभाल बेहतर तरीके से की जाती है। आगे भी इस बात पर ध्यान दिया जाता रहेगा। वैसे तो यहां पर हर तरह के मरीजों की बेहतर तरीके से देखभाल की जाती है, लेकिन मां और बच्चे की देखभाल को लेकर किसी तरह की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। इस बात का हमलोगों ने उन्हें आश्वासन दिया।
सदर अस्पताल का भी किया निरीक्षणः स्वास्थ्य विभाग के सलाहकार केपी साहा ने सदर अस्पताल का भी निरीक्षण गया। ओपीडी से लेकर ऑपरेशन थियेटर, जांच घर, पीकू, नीकू समेत पूरा अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान सिविल सर्जन डॉ. उमेश कुमार शर्मा भी मौजूद रहे। यहां की भी व्यवस्था से वह संतुष्ट दिखे। सिविल सर्जन डॉ. उमेश कुमार शर्मा ने बताया कि सदर अस्पताल में सभी चीजें अच्छी थीं। यहां की व्यवस्था से वह संतुष्ट दिखे। कोरोना जांच, टीकाकरण समेत सभी सिस्टम यहां पर ठीक तरीके से काम कर रहा था।
जगदीशपुर सीएचसी भी गएः स्वास्थ्य विभाग के सलाहकार केपी साहा मायागंज अस्पताल का जायजा लेने के बाद जगदीशपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केद्र का निरीक्षण करने गए। वहां भी उनके साथ सिविल सर्जन, डीपीएम और केयर इंडिया के डीटीएल मौजूद रहे। जगदीशपुर सीएचसी का उन्होंने बारीकी से निरीक्षण किया। ओपीडी से लेकर ओटी तक गए। प्रसव कक्ष, दवा काउंटर इत्यादि सभी कुछ वहां पर व्यवस्थित मिला। प्रभारी डॉ. आशुतोष कुमार ने बताया कि यहां पर सभी कुछ व्यवस्थित था। निरीक्षण के दौरान मरीजों का बेहतर तरीके से इलाज करते पाया गया। दवा से लेकर साफ सफाई तक का यहां पर बेहतर इंतजाम देखा गया। जगदीशपुर जाने के दौरान रास्ते में वह गोनूधाम हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर भी गए, जहां पर सीएचओ, एएनएम और आशा से उन्होंने बात की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: