10 वर्ष से फाइलेरिया रोगी सीता देवी को अपने सामने फाइलेरिया की दवा सेवन करवाकर जिलाधिकारी ने किया एमडीए कार्यक्रम का शुभारंभ

  • इस अवसर पर एएनएम स्कूल की छात्राओं सहित कई अन्य ने भी खाई डीईसी और एल्बेंडाजोल की टेबलेट
  • मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एमडीए) कार्यक्रम के तहत करीब 14 लाख से अधिक लोगों को खिलाई जाएगी दवा

मुंगेर, 20 सितंबर 2021 : दस वर्षों से फाइलेरिया से ग्रसित सीता देवी को अपने सामने फाइलेरिया की दवा सेवन करवाकर जिलाधिकारी नवीन कुमार ने 14 दिनों तक चलने वाले एमडीए कार्यक्रम का शुभारंभ किया । मौके पर एएनएम स्कूल की छात्राओं ने भी जिलाधिकारी नवीन कुमार के सामने फाइलेरिया रोग से मुक्ति के लिए डीईसी और एल्बेंडाजोल की दवा खाई।

इस अवसर पर उपस्थित स्वास्थ्य कर्मी और मिडिया कर्मियों को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी नवीन कुमार ने बताया कि फाइलेरिया मुक्ति अभियान के तहत सोमवार से अगले 14 दिनों तक मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एमडीए) कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस अभियान की थीम ” सुरक्षित दवा, भरोसा स्वास्थ्य का ” के अनुसार जिला कि कुल जनसंख्या 17 लाख 22 हजार 803 में से 14 लाख 64 हजार 378 लोगों को फाइलेरिया की दवा खिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए जिला भर में कुल 713 टीम गठित की गई है। इस अभियान को सफल बनाने में जिला भर में कुल 958 आशा कार्यकर्ता, 205 आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका, 263 वोलेंटियर्स और 73 सुपरवाइजर काम कर रहे है। ये सभी शहरी – ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ स्लम एरिया में घर- घर जाकर अपने सामने लोगों को फाइलेरिया से बचने के डीईसी और एल्बेंडाजोल दवा खिलाएगी। उन्होंने बताया कि 2 वर्ष से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाओं एवं गंभीर रोगों से पीड़ित लोगों को यह दवा नहीं खिलानी है।

मालूम हो की सोमवार को जिलाधिकारी के सामने फाइलेरिया कि दवा खाने वाली 48 वर्षीय सीता देवी पिछले 10 साल से फाइलेरिया (हाथी पांव) कि बीमारी से पीड़ित है जो सोमवार को सदर अस्पताल अल्ट्रासाउंड करवाने आई हुई थी। सीता देवी गुलजार पोखर, वार्ड नंबर 13 कि रहने वाली है। उसके पति नंद किशोर केशरी फुटपाथ पर घड़ी की दुकान चलाते हैं।

नोडल अधिकारी सुधांशू कुमार के नेतृत्व में आशा कार्यकर्ता ने स्लम एरिया में लोगों को खिलाई फाइलेरिया की दवा :
जिलाधिकारी नवीन कुमार के द्वारा एमडीए कार्यक्रम के शुभारंभ होने के साथ ही जिला भर में अभियान में जुटी टीम के द्वारा लोगों को फाइलेरिया की दवा खिलाई जाने लगी। मुंगेर शहरी क्षेत्र के फाइलेरिया नोडल अधिकारी सुधांशू कुमार के नेतृत्व में मुंगेर शहरी पीएचसी क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता सुलोचना देवी और बिंदू देवी ने मुंगेर किला क्षेत्र अंतर्गत स्लम एरिया में जाकर 3 साल के बच्चे शिवम कुमार, 14 साल की लड़की साधना कुमारी और 15 साल कि लड़की फूलवती कुमारी को फाइलेरिया से बचने के लिए अपने सामने डीईसी और एल्बेंडाजोल कि टेबलेट खिलावाई। इस अवसर पर फाइलेरिया सुपरवाइजर मो.इफ्तिकार और पीसीआई के जिला प्रतिनिधि मिथिलेश कुमार और राकेश कुमार मौजूद थे।
इस दौरान सिविल सर्जन हरेन्द्र आलोक, डीपीएम नसीम रजि, जिला वेक्टर बोर्न डिजीज कंट्रोलिंग ऑफिसर डॉ. अरविंद कुमार सिंह, डब्ल्यूएचओ के जिला प्रतिनिधि संजीव कुमार, केअर इंडिया से डॉ. नीलू तबरेज आलम, पीसीआई से मिथिलेश कुमार और राकेश कुमार के साथ -साथ कई स्वास्थ्य कर्मी और मीडिया कर्मी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Notice: Undefined index: amount in /home/u709339482/domains/mobilenews24.com/public_html/wp-content/plugins/addthis-follow/backend/AddThisFollowButtonsHeaderTool.php on line 82
%d bloggers like this: