12 और 13 जून को जिले भर में हेल्थ और फ्रंटलाइन वर्कर को लगाई जाएगी वैक्सीन

  • वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग मीटिंग में स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने दिए निर्देश
  • विशेष अभियान चलाकर हेल्थ और फ्रंट लाइन वर्कर का किया जाना है वैक्सीनेशन

लखीसराय, 11 जून-

शनिवार 12 जून और रविवार 13 जून को विशेष अभियान चलाकर जिले के विभिन्न सेशन साइट पर फ्रंटलाइन वर्कर और हेल्थ वर्कर को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने के लिए कोरोना की वैक्सीन लगाई जायेगी । स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया-जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. अशोक कुमार भारती ने बताया कि गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई मीटिंग में बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने शनिवार और रविवार को जिले भर में हेल्थ वर्कर और फ्रंट लाइन वर्कर के वैक्सीनेशन के लिए विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया है। इसी आदेश के आलोक में जिले के सभी प्रखण्डों में विभिन्न सेशन साइट पर सभी स्वास्थ्य कर्मियों के साथ ही फ्रंट लाइन वर्कर आशा कर्मी, आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका, जीविका दीदी के साथ ही अन्य कर्मियों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी।

शिक्षकों और जीविका दीदी के टीकाकरण के लिए चला विशेष अभियान :
उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के निर्देशानुसार 9 जून और 10 जून को जिले भर के सभी सेशन साइट पर शिक्षकों और जीविका कर्मियों को विशेष अभियान चलाकर कोरोना की वैक्सीन लगाई गई।
उन्होंने बताया कि अभी टीका एक्सप्रेस के माध्यम से जिले के सभी प्रखण्डों में पंचायत स्तर पर किसी स्कूल या अन्य सार्वजनिक स्थान पर टीकाकरण शिविर आयोजित कर 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। इसके साथ ही नगर परिषद लखीसराय के सभी 33 वार्ड और नगर पंचायत बड़हिया के सभी वार्डों में भी 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। प्रत्येक दिन नगर परिषद और नगर पंचायत के दो वार्डो में टीकाकरण किया जा रहा है।

कोरोना टीकाकरण के लिए आगे आयें जिलावासी लोग :
जिलावासियों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि खुद के साथ अपने परिवार के सदस्यों और समाज के लोगों कि जान की सुरक्षा के लिए सभी लोग कोरोना का टीका अवश्य लगवाएं। वैक्सीनेशन के लिए सभी जिले वासियों के आगे आने के बाद ही कम से कम समय में जिला को कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त किया जा सकता है ।

टीका एक्सप्रेस के माध्यम से वैक्सीनेशन के लिए लोगों को किया जा रहा है जागरूक :
उन्होंने बताया कि गांवों में कुछ भ्रांति के कारण 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोग टीका नहीं लेना चाहते हैं। इन सभी लोगों को मैं खुद वैक्सीन के बारे में सही जानकारी देकर उनके मन में भ्रांतियों को काफी हद तक दूर करने का प्रयास कर रहा हूँ ताकि लोग वैक्सीनेशन के लिए आगे आयें | बताया कि क्षेत्र में काम करने वाली आशा कर्मी, आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका के साथ- साथ एएनएम भी घर- घर जाकर लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने को ले टीकाकरण के लिए प्रेरित कर रही हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *