आत्मनिर्भर भारत में स्वावलंबिका का योगदान

दिल्ली:
महिलाओं का विकास देश का विकास है। देश बदल रहा है महिलाओं की दशा में सुधार आ रहा है, समय के साथ साथ नारी शक्ति और सशक्त होती जा रही है। महिलाओं की आत्म निर्भरता उनकी जागरुकता और उनकी उन्नति न केवल उनके गृहस्थी के विकास में सहायक साबित होती है बल्कि देश के विकास में भी अहम भूमिका निभाती है।

स्वतंत्र महिलाओं की पहचान को दिखाने, सम्मानित करने, एक मंच पर सभी क्षेत्रों के व्यक्तित्वों को जोड़ने, जश्न मनाने, वैश्विक नेटवर्क बनाने और समाज में महिलाओं की भूमिका को महसूस करने के लिए अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में स्वावलंबिका सम्मान समारोह 2021, 7 मार्च को दिल्ली में आयोजित किया जा रहा है।

अवार्ड के लिए नामांकित कि गयी लेखिका और एचआर कंसलटेंट नीलीमा राजेश कामदार का मानना है कि समाज में महिलाओं के वास्तविक अधिकार को प्राप्त करने के लिये स्वावलंबिका बनाना ही महिला सशक्तिकरण है और महिलाओं के लिए आर्थिक आत्मनिर्भरता बेहद जरूरी।

बता दें कि स्वावलंबिका सम्मान समारोह 2021 का आयोजन ईबीएस इंडिया इंक की संस्थापक, व्यापार और ब्रांड सलाहकार छवि हेमंत द्वारा किया जा रहा है। समारोह में व्यवसाय, सरकार, सामाजिक, राजनीति, मीडिया, कला और मनोरंजन उद्योग से व्यक्तित्व को सम्मानित किया जायेगा। साथ ही, महिलाओं को उनके बेहतरीन कार्यो के लिए, प्रशंसा प्राप्त करने और उनको उचित पहचान दिलाने का एक अवसर भी होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.