मजबूत इच्छाशक्ति से कोविड-19 को डॉ योगेन्द्र ने दी मात

  • कोविड-19 के दौर में लोगों का करते रहें अनवरत सेवा
  • सूर्यगढ़ा पीएचसी में चिकित्सक के पद पर हैं तैनात

लखीसराय, 28 अक्टूबर, 2020
कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी में जहाँ लोग बचाव को लेकर अपने स्तर से हरसंभव सभी आवश्यक प्रयास कर रहे हैं। वहीं कुछ लोग खुद के जान का परवाह किए वगैर पूरी तरह समर्पित भाव से लोगों को कोरोना संक्रमण के दायरे से सुरक्षित रखने में दिन-रात एक कर जुटे हुए हैं। ऐसे ही लोगों में सूर्यगढ़ा पीएचसी के चिकित्सक डॉ योगेन्द्र कुमार दिवाकर का नाम जिले में शुमार है। वह कोविड-19 के दौर में ना सिर्फ पीएचसी में लोगों को अपना सेवा दिए, बल्कि पीएचसी अंतर्गत क्षेत्र में भी जागरूक लोगों को चिकित्सा सेवा के साथ बचाव के लिए आवश्यक जानकारी दिए। इसके लिए वह पीएचसी कर्मियों को तो बचाव को लेकर जागरूक कर ही रहें हैं, इसके अलावे लगातार अपने क्षेत्र का भ्रमण कर आमलोंगो को भी जागरूक कर रहें हैं और बचाव से संबंधित आवश्यक जानकारी दे रहे हैं। साथ ही लोगों से सुरक्षा कवच का पालन करने का अपील कर रहे हैं।

  • लोगों को सेवा देने के दौरान हो गये थे संक्रमित : –
    डॉ योगेन्द्र कुमार दिवाकर लोगों को सेवा देने के दौरान ही खुद कोविड-19 से संक्रमित हो गये थे। इसके बाद वह सुरक्षा व इलाज के मद्देनजर आइसोलेट हुए। जहाँ स्वस्थ होने पर छुट्टी मिलने के बाद पुनः दुगुनी ताकत के साथ अपनी जिम्मेदारी में जुट गये।
  • सामुहिक के साथ-साथ व्यक्ति गत रूप से भी लोगों को दे रहे बचाव की जानकारी : –
    डॉ योगेन्द्र कुमार दिवाकर क्षेत्र भ्रमण के दौरान लोगों को समूह के साथ-साथ व्यक्तिगत यानी एक लोगों को भी कोविड-19 से बचाव को लेकर आवश्यक जानकारियाँ दे रहे हैं और उन्हें बचाव के प्रति सजग रहने के लिए जागरूक कर रहें हैं। इस दौरान शारीरिक-दूरी का भी पूर्ण रूप से पालन करते हैं, इसके अलावे अन्य निर्देशों का भी पालन करते हैं।

-जिले में कोरोना योद्धा के रूप में हो रही पहचान : –
चिकित्सक डॉ योगेन्द्र द्वारा कोविड-19 में दी जा रही अनवरत सेवा के कारण जिले में उनकी पहचान कोरोना योद्धा के रूप में हो रही है और स्वास्थ विभाग के अलावे अन्य विभागों के पदाधिकारी भी इनके कार्यों की सराहना कर रहे हैं।

  • धैर्य व मजबूत इच्छाशक्ति से कोविड-19 को दी जा सकती है मात :-
    डॉ योगेन्द्र बताते हैं कोविड-19 संक्रमण होने के बाद इलाज तो जरूरी है ही। इसके अलावे इलाज के साथ मजबूत इच्छाशक्ति व धैर्य होना भी बेहद जरूरी है। दरअसल, मजबूत इच्छाशक्ति और धैर्य कोविड-19 से स्वस्थ होने के लिए किसी दवाई से कम नहीं है।
  • इन मानकों का करें पालन, कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर :-
  • हमेशा 2 गज शारीरिक दूरी का पालन करें।
  • मास्क और सैनिटाइजर का नियमित रूप से उपयोग करें।
  • भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।
  • ऑख, नाक, मुँह को अनावश्यक छूने से बचें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Notice: Undefined index: amount in /home/u709339482/domains/mobilenews24.com/public_html/wp-content/plugins/addthis-follow/backend/AddThisFollowButtonsHeaderTool.php on line 82
%d bloggers like this: