खगड़िया जिले में बनाएं गए पाँच और वैक्सीनेशन सेंटर, वैक्सीनेशन कार्यों को मिलेगी गति

  • अब जिले में वैक्सीनेशन सेंटरों की संख्या पाँच से हो गई दस, सभी केंद्र पर सप्ताह में दो दिन होगा वैक्सीनेशन
  • निर्धारित लक्ष्य हर हाल में पूरा हो, इसलिए बढ़ाया गया वैक्सीनेशन सेंटर

खगड़िया, 25 जनवरी|
कोविड-19 से स्थाई निजात के लिए जिले में कोविड-19 वैक्सीनेशन के सफल क्रियान्वयन के लिए स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह कटिबद्ध है| हर हाल में सफल क्रियान्वयन को लेकर नित्य तरह-तरह के निर्णय लिए जा रहे हैं। ताकि हर हाल में लक्ष्य पूरा किया जा सके और रजिस्ट्रर्ड सभी लोग आसानी के साथ वैक्सीन ले सकें। इसको लेकर जिले में फिर पाँच नये वैक्सीनेशन सेंटर बनाये गये हैं। जबकि पाँच सेंटर पूर्व से थे। यानी अब जिले में वैक्सीनेशन सेंटरों की संख्या कुल 10 हो गई। इससे ना सिर्फ वैक्सीनेशन कार्यों में गति मिलेगी, बल्कि वैक्सीन लेने वाले व्यक्ति को भी दूरी का सफर करने से मुक्ति मिलेगी और वह आसानी के साथ वैक्सीन ले सकेंगे।

  • हल हाल में निर्धारित लक्ष्य होगा पूरा :-
    जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ देवनंदन पासवान ने बताया कि हर हाल में वैक्सीनेशन के का निर्धारित लक्ष्य को पूरा किया जाएगा। इसको लेकर जिले के सभी चिकित्सा पदाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। वहीं, उन्होंने बताया कि का वैक्सीन से किसी प्रकार की साइड इफेक्ट की अबतक खबरें सामने नहीं आई हैं है। जिससे यह तय है कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। इसलिए, मैं सभी स्वास्थ्य कर्मियों से अपील करता हूँ कि पूरी तरह निर्भीक होकर वैक्सीनेशन कराएं और निर्धारित लक्ष्य शत-प्रतिशत पूरा करने में सहयोग करें।
  • अब कोविड-19 को जड़ से खत्म करने के लिए सहयोग की जरूरी :-
    वहीं, डॉ देवनंदन पासवान ने कहा कि जिस तरह सभी स्वास्थ्य कर्मियों ने कोविड-19 के खिलाफ वगैर किसी प्रवाह का मजबूत इच्छाशक्ति और सकारात्मक साकारात्मक सोच के साथ पूरे साल जंग लड़ने में अहम योगदान दिए, वह काबिले तारीफ है। अब उसी तरह कोविड-19 को जड़ से खत्म करने के लिए सहयोग करने की जरूरत है। ताकि कोविड-19 का दौर पूरी तरह खत्म हो सके सकें और कोविड-19 मुक्त समाज का निर्माण हो सके कें।
  • यहाँ बनाएं गये नये या वैक्सीनेशन सेंटर :-
    स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले में पाँच और नये या वैक्सीनेशन सेंटर बनाये एं गये हैं। जिसमें बेलदौर पीएचसी, चौथम पीएचसी, मानसी पीएचसी, एडिशनल पीएचसी गौछारी एवं परबत्ता परवत्ता बाल विकास बिकास परियोजना कार्यालय को चिह्नित चिन्हित किया गया है। जबकि पूर्व से संचालित पाँच केंद्रों में सदर अस्पताल, परबत्ता परवत्ता पीएचसी, सदर पीएचसी, अलौली पीएचसी एवं गोगरी रेफरल अस्पताल का नाम शामिल हैं है। सभी सेंटरों पर सप्ताह में दो दिन सोमवार और गुरुवार गुरूवार को वैक्सीनेशन होगा।
  • समाजहित में भी जरूरी है वैक्सीन :-
    वैक्सीनेशन से ना सिर्फ आप सुरक्षित होंगे, बल्कि वह भी सुरक्षित होंगे जिसके बीच आप रहते हैं। इसलिए, वैक्सीन खुद के साथ-साथ समाजहित में भी जरूरी है। दरअसल, वैक्सीन से हीं सी स्थाई रूप से वायरस की का श्रृंखला टूटेगी। जिससे पूरा समाज को कोविड-19 से स्थाई निजात मिलेगी गा और लोग खुद को पूरी तरह सुरक्षित महसूस करते सामान्य दिनों की तरह अपनी ने दिनचर्या की का शुरुआत शुरूआत कर सकेंगे।
  • खाली पेट नहीं लें वैक्सीन :-
    वैक्सीन लेने के पूर्व कोई खास सतर्कता की जरूरत नहीं है। किन्तु, इस बात का ध्यान रखें कि वैक्सीन लेने के पूर्व नाश्ता या खाना जरूर खा लें। इसके अलावा इस बात का भी ध्यान रखें कि अगर आप कोविड-19 से पीड़ित हैं तो ठीक होने के चार से छः सप्ताह बाद ही वैक्सीन लें।
  • वैक्सीनेशन के बाद सामान्य परेशानी होने से घबराएं नहीं :-
    अगर वैक्सीनेशन के बाद मामूली दर्द, बुखार, वैक्सीन लेने वाले जगह पर लाल चकता समेत अन्य सामान्य परेशानी हो तो ऐसी स्थिति में घबराएं नहीं। क्योंकि, यह आम बात है। किन्तु, वैक्सीन लेने के बाद आधा घंटा तक चिकित्सकों की निगरानी में जरूर रहें। क्योंकि, आपको जो भी परेशानी होगी यह आधे घंटे अंदर सामने आ जाएगी और चिकित्सकों के सामने रहने से आसानी से समस्या का समाधान हो जाएगा।
  • इन मानकों का रखें ख्याल, कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर :-
  • दो गज की शारीरिक दूरी का हमेशा ख्याल रखें।
  • मास्क का नियमित रूप से उपयोग करें।
  • साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें।
  • बाहरी खाना खाने से परहेज करें।
  • घर से बाहर निकलने पर निश्चित रूप से सैनिटाइजर साथ रखें।
  • भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.