उर्वशी डांस म्यूजिक आर्ट एंड कल्चरल सोसायटी ने अनोखा कार्य किया- विजय गोयल,सांसद

-उर्वशी डांस म्यूजिक आर्ट एंड कल्चरल सोसायटी का दो दिवसीय कत्थक नृत्य महोत्सव का आयोजन

-मुख्य अतिथि के रूप में फूल और कांटे प्रसिद्ध डायरेक्टर इकबाल दुर्रानी, गेस्ट ऑफ आनर के रूप में कत्थक डायरेक्टर सुमन कुमार और मारवाह स्टुडियो के डायरेक्टर संदीप मारवाह मौजूद रहे।

नईदिल्ली-

उर्वशी डांस म्यूजिक आर्ट एंड कल्चरल सोसायटी ने दो दिवसीय कत्थक नृत्य महोत्सव का आयोजन त्रिवेणी कला संगम नईदिल्ली में किया। महोत्सव के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में सांसद विजय गोयल मौजूद थे जिन्होंने पूरे कार्यक्रम को बड़े ही शिद्दत के साथ अंत तक कलाकारों का हौसला आफजाई किया। इस मौके पर विजय गोयल ने कहा कि देश के कलाकारों में अद्भूत प्रतिभा है। जिस प्रकार से उर्वशी संस्था ने इस काल में कलाकारों को एकजुट किया और ओन लाइन प्रतियोगिता चलाई यह अपने आप में अनोखा कार्य है।

विजय गोयल ने उर्वशी डांस म्यूजिक आर्ट एंड कल्चरल सोसायटी के द्वारा दो दिनों तक चले इस महोत्सव को और विस्तार करने की योजना पर कार्य करने के लिए बल दिया। विजय गोयल ने इस महोत्सव को संबोधित करते हुए कहा कि आज देश में ऐसे मंचन के लिए ओडिटोरियम की कमी है जिसके लिए वह सरकार से गुजारिश करेंगे। उन्होंने उर्वशी संस्था को हर संभव सहायता देने का भी वादा किया।

महोत्सव के उद्धघाटन के अवसर पर मौजूद प्रसिद्ध फिल्मकार इकबाल दुर्रानी ने कहा कि उर्वशी डांस म्यूजिक आर्ट कल्चरल सोसायटी जैसी संस्था को आगे लाने की जरूरत है। जो ऐसे महत्वपूर्ण कार्यक्रम का आयोजन किया है। दुर्रानी ने कहा कि उन्होंने ने भी इसी त्रिवेणी में पहला परफोर्मेंस दिया था। जिससे उऩकी यादें जुडी हैं। इस मौके पर कत्थक डायरेक्टर सुमन कुमार ने कहा कि ऐसी परफोर्मेंस कम ही देखने को मिलती है। उर्वशी संस्था लगातार कलाकारों को आगे बढ़ाता रहा है। प्रसिद्ध एकेडमिशियन, डायरेक्टर, प्रोडयूसर व चांसलर संदीप मारवाह ने कलाकारों को शुभकामना देते हुए कहा कि सुर ताल हुनर का कमाल कार्यक्रम की शुरुआत उनकी स्टुडियो से हुई जिसका आज यहां परफोर्मेंस देखकर काफी खुशी हो रही है। हमारा स्टुडियों नवोदित कलाकारों के लिए सदा खुला है।

इस मौके पर उर्वसी डांस म्यूजिक आर्ट एंड कल्चरल सोसायटी के संयोजक उमेश शर्मा ने कहा कि कत्थक मनुष्य के शारीरिक क्षमता को दैविक रूप से बढ़ा देता है। उर्वसी विगत कई वर्षों से ऐसे कार्यक्रम करता रहा है लेकिन कोरोना के बाद यह पहला कार्यक्रम है जिसमें दर्शकों और कलाकारों को उत्साह देखते ही बना है।

इस मौके पर उर्वसी डांस म्यूजिक आर्ट एंड कल्चल सोसायटी की प्रेसिडेंट रेखा मेहरा ने कहा कि उनका हमेशा से यह उद्देश्य रहा है कि कलाकारों का मंच प्रदान कर उनकी प्रतिभा को आगे लगाया जाए। इसके लिए संस्था लगातार कार्य करती रही है। इसी कड़ी में यह कार्यक्रम दो दिनों तक चला। जिसमें कई बेहतरीन परफोर्मेंस हुए।

हमलोग फेम एक्ट्रैस जय श्री ने इस महोत्सव में शुरु से अंत तक सभी कलाकारों का हौसला आफजाई किया। जय श्री ने कलाकारों के साथ साथ आयोजक के प्रयास की सराहना की।

सुर ताल हुनर का कमाल की कत्थक डांसर विजेता व्रिति गुजराल, ओडिशी डांस विजेता अर्चिता आर्या ने शुरुआत में परफोर्मेंस देकर दर्शकों को मन मोह लिया। इस खास मौके पर कोरियोग्राफर एसएनए अवार्डी गुरु प्रेरणा श्रीमाली के परफोर्मेंस को देखकर दर्शक मन मुग्ध हो गए।

दर्शकों को इंतजार था पद्मश्री शोभना नारायण का के परफोर्मेंस का। जब उन्होंने अपना परफोर्मेंस दिए तो दर्शक वाह वाह करने लगे। शोभना नारायण ने जहां बड़े सहजता से अपने परफोर्मेंस दिए वहीं कई नए कलाकारों का उत्साह बढ़ाया।

इस मौके पर कत्थक कोरियोग्राफी कत्थक एसएनए अवार्डी गुरु सस्वती सेन ने अपने परफोर्मेंस से दर्शकों को अपनी ओर खीचा। महोत्सव के दूसरे दिन जहां लखनऊ और राजस्थान के कलाकारों ने दर्शकों को मन मोह लिया। वहीं उर्वशी संस्था के द्वारा वर्षा ऋतु पर प्रस्तुति देकर दर्शकों का मन मोह लिया।

कत्थक महोत्सव में नृत्य के साथ भाव भंगिमाओं से होली के रंगों में लिपटे बंसत का ऐसा माहौल गढ़ा कि दर्शक अंत तक बंधे रहे और ओडिटोरियम तालियों की गड़गड़ाहट से गुंजता रहा।

इस महोत्सव का उद्घाटन मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद प्रसिद्ध प्रोड्यूसर इकबाल दुर्रानी, कत्थक डायरेक्टर सुमन कुमार और मारवाह स्टुडियो के डायरेक्टर संदीप मारवाह ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

गौरतलब है कि दो दिवसीय कत्थक महोत्सव में कई और महत्वपूर्ण परफोर्मेंस हुए। जिसे दर्शकों का इंतजार था। दो दिवसीय कत्थक नृत्य महोत्सव का आयोजन में देश के कई नामी कत्थक नृत्यक तो भाग लिए। जहां युवा प्रतिभा को आगे आने का मौका मिला। उर्वसी डांस म्यूजिक आर्ट एंड कल्चरल सोसायटी प्रत्येक वर्ष ऐसे कार्यक्रम करता है जिसकी चर्चा देशभर में होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: