हम आपके लिए मास्क पहनते हैं, आप हमारे लिए मास्क पहनें

स्वास्थ्यकर्मी अब लोगों से मास्क पहनने को लेकर कर रहे अपील
स्वास्थ्यकर्मियों की यह अपील लोगों पर कर रही है असर
कोरोना से बचाव को लेकर लोग हो रहे हैं जागरूक

बांका, 31 अक्टूबर।
स्वास्थ्य विभाग कोरोना को लेकर लगातार अपना मुहिम चला रहा है। जागरूकता अभियान में तरह-तरह के उपाय कर लोगों से गाइडलाइन का पालन करवाया जा रहा है। स्वास्थ्यकर्मी अब लोगों के मास्क पहनने को लेकर नए तरीके अपना रहे हैं। स्वास्थ्यकर्मी जगह-जगह जाकर लोगों से कह रहे हैं कि हम आपके लिए मास्क पहनते हैं, आप हमारे लिए मास्क पहनें । इसका असर भी देखने को मिल रहा है।

शहरी स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ सुनील कुमार चौधरी कहते हैं कि हाल के दिनों में देखा गया कि लोग पहले की तरह जीवन जीने लगे हैं। मास्क पहनना और दो गज की सामाजिक दूरी का ख्याल रखना भूल रहे हैं तो हम लोगों ने लोगों से मास्क पहनने को लेकर नई तरह की अपील की। इस अपील से लोगों को एहसास हो रहा है कि मास्क पहनना ना सिर्फ उनके लिए फायदेमंद है, बल्कि दूसरे को भी कोरोना से बचाता है। जब स्वास्थ्यकर्मी ऐसा बोलते हैं कि हम आपके लिए पहन रहे हैं आप हमारे लिए मास्क पहनें तो लोगों में अपराध बोध होता है और वह मास्क लगाने के लिए मजबूर हो जाते हैं।

मास्क सही तरीके से लगाने को भी सिखा रहे हैं स्वास्थ्यकर्मी:
डॉक्टर चौधरी कहते हैं कि ना सिर्फ लोगों से मास्क पहनने की अपील की जा रही है, बल्कि उन्हें सही तरीके से मास्क लगाने की सलाह भी दी जा रही है। लोगों को बताया जा रहा है कि मास्क कैसे पहनना है। बहुत सारे लोग मास्क पहनते वक्त नाक और मुंह को भी ढकते नहीं है। गले में लटका लेते हैं। ऐसा नहीं करने की लोगों को सलाह दी जा रही है।

मास्क लगाने से ऑक्सीजन की नहीं होती है कमी: डॉक्टर चौधरी कहते हैं कि दरअसल कुछ लोगों में ऐसा भ्रम है कि मास्क लगाने से ऑक्सीजन की कमी होती है। ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। सूती कपड़े के मास्क में ऑक्सीजन जाने के पर्याप्त साधन हैं। इसलिए बेहिचक मास्क पहनें । यदि कोई समस्या हो तो सर्जरी मास्क लगाएं। वह पूरी तरह से आजमाया हुआ है। उससे किसी तरह का नुकसान नहीं होता है।

मास्क इस्तेमाल के बाद उसे फेंकने के तरीके भी बताए जा रहे:
डॉक्टर चौधरी कहते हैं कि मास्क लगाने के बाद जब वह बेकार हो जाता है तो उसे सही तरीके से फेंकना चाहिए। जहां-तहां फेंकने से उससे संक्रमण का खतरा रहता है। मास्क अगर आप डस्टबिन में डाल रहे हैं तो उसे दो टुकड़े करके डालिए। सबसे बेहतर तो यह है कि इस्तेमाल किए हुए मास्क को जमीन के अंदर गाड़ दीजिए। इससे किसी तरह का खतरा नहीं रहता है।

कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल:
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढकें .
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: