कोरोना वैक्सीनेशन अभियान में लगा दी गई है जिला प्रशासन की कि पूरी मशीनरी : जिलाधिकारी

  • जिले के सभी पांच सत्र स्थल पर आज से कुल 3560 लोगों को लगाया जाएगा कोरोना का टीका
  • लखीसराय जिला में वैक्सीनेशन के लिए आयी है 423 वायल दवा

लखीसराय , 15 जनवरी-

शनिवार से शुरू हो रहे कोरोना वैक्सीनेशन अभियान के लिए जिला प्रशासन की पूरी मशीनरी लगा दी गई है । इसको ले जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के द्वारा सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई हैं । उक्त जानकारी शुक्रवार को जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह ने जिला समाहरणालय के मंत्रणा कक्ष में कोरोना टीकाकरण को लेकर सेंटर फॉर एडवोकेसी एन्ड रिसर्च संस्था(सी-फार) के द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए दी । उन्होंने बताया कि जिले के पांच सत्र स्थल पर कोरोना वैक्सीनेशन की व्यवस्था की गई है । इन सभी सत्र स्थल का उनके द्वारा निरीक्षण कर लिया गया है और वह व्यवस्था से सन्तुष्ट हैं । कोरोना वैक्सीनेशन के लिए सदर हॉस्पिटल लखीसराय, लखीसराय सदर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, रामगढ़ चौक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सूर्यगढ़ा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहित राज्य स्तर से एक प्राइवेट हॉस्पिटल के चयन करने के निर्देश के अनुसार शहर के नया बाज़ार स्थित सुदामा हॉस्पिटल को चिह्नित किया गया है। यहां वैक्सीनेटर के रूप में प्राइवेट हेल्थ वर्कर को चुना गया है। उन्होंने बताया कि इन सभी सत्र स्थल (सेशन साइट) पर वैक्सीनेशन कार्य की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी हॉस्पिटल सुपरिटेंडेंट, सीएचसी और पीएचसी के मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी को दी गई है। इसके साथ
ही सुदामा हॉस्पिटल में लखीसराय सदर पीएचसी के डॉक्टर को पर्यवेक्षक के रूप में तैनात किया गया है।

सत्र स्थल के रूप में तीन कमरों के भवन का किया गया है चयन :
जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि कोरोना वैक्सीनेशन के सत्र स्थल के रूप में तीन कमरों के भवन का चयन किया गया है। जिसमें से एक कमरा वेटिंग रूम जहां वैक्सीनेशन के लिए आने वाले लोग रेजिस्ट्रेशन वेरिफिकेशन के बाद अपनी बारी का इंतजार करेंगे। इसके बाद दूसरा कमरा वैक्सीनेशन रूम होगा जहां लोगों को वैक्सीन लगायी जाएगी । इसके बाद तीसरा कमरा ऑब्सेवशन रूम होगा जहां वैक्सीन लगाने के आधे घन्टे बाद तक लोगों पर वैक्सीन के होने वाले प्रभावों का अध्ययन किया जाएगा। ऑब्सर्वेशन रूम में दो बेड और 10 कुर्सियां होंगी । यहां किसी भी तरह की परेशानी से निपटने के लिए एनाफिसिज़िट करने के एईएफ आई किट उपलब्ध रहेंगे। इसके माध्यम से अवलोकन करने के बाद हीं लाभार्थी अपने घर जा सकते हैं। इसके साथ हीं सभी सेशन साइट पर कम से कम स्वास्थ्य कर्मी इस कार्य को सम्पादित करेंगे।

पहले चरण में 3560 हेल्थ वर्कर और आईसीडीएस कर्मियों के टीकाकरण के लिए आयी है 423 वायल दवा :
उन्होंने बताया कि पहले चरण में जिले के कुल 3560 रजिस्टर्ड हेल्थ वर्कर और आईसीडीएस वर्कर के वैक्सीनेशन के लिए जिला को कुल 423 वायल मेडिसीन प्राप्त हुए हैं। 1 वायल में 10 लोगों को वैक्सीन दिया जा सकेगा। प्रत्येक ब्यक्ति को 0.5 एमएल का डोज दिया जाना है। इस प्रकार से देखा जाय तो हमलोगों के पास 4230 लोगों को वैक्सीनेट करने की क्षमता है। जबकि हमारे पास 3560 लोगों का नाम को- विन एप्प पर रजिस्टर्ड है। उन्होंने बताया कि दूसरे फेज में नगर निकायों के फ्रंट लाइन वर्कर और तीसरे फेज स में 50 वर्ष से ज्यादा के लोगों को वैक्सीन दी जाएगी लगाया जाएगा।

जिले के सभी पांच सत्र स्थल सेशन साइट पर लाभार्थी और वायल की कि संख्या :
सदर अस्पताल हॉस्पिटल में लाभार्थियों की कि कुल संख्या 50 है और यहां के लिए 5 वायल आये हैं। लखीसराय सदर पीएचसी में लाभार्थियों की कुल संख्या 100 है और यहां के लिए 10 वायल आवंटित हैं। इसी तरह रामगढ़ चौक पीएचसी, सूर्यगढ़ा सीएचसी और सुदामा हॉस्पिटल में लाभार्थियों की कुल संख्या 100- 100 है और वहां के लिए भी 10-10 वायल आवंटित किए गए हैं। इस प्रकार के जिले में अभी लाभार्थियों की कि कुल संख्या 450 है जिनके लिए 45 वायल मेडिसिन की कि व्यवस्था ब्यवस्था की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.