जिले के 10 क्षेत्रों में आज से होगा एंटीबॉडी टेस्ट

-एक क्षेत्र में 40 लोगों का होगा एंटीबॉडी टेस्ट
-जिले में स्वास्थ्य विभाग का अभियान ला रहा है रंग

भागलपुर, 12 फरवरी

कोरोना की रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर है. लगातार हो रही जांच के बीच अब जिले के 10 क्षेत्र में शनिवार से लोगों का एंटीबॉडी टेस्ट होगा. इस टेस्ट के जरिए यह पता लगाया जाएगा कि लोगों में कोरोना के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित हुई है या नहीं. सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार सिंह ने बताया कि जिले के 10 वैसे क्षेत्र जहां की सबसे अधिक कोरोना के मरीज मिले हैं, उन जगहों पर आज से 40- 40 लोगों की जांच की जाएगी. जांच के जरिए उनमें एंटीबॉडी का पता लगाया जाएगा.
दो दिनों से एक भी कोरोना मरीज नहीं मिले:
जिले में कोरोना की रफ्तार भी अब कम होती जा रही है. पिछले दो दिनों से जिले में कोरोना के एक भी मरीज नहीं मिले हैं. इस साल अब तक पांच ऐसे दिन हो चुके हैं, जिस दिन की कोरोना का कोई भी मरीज नहीं मिला है. इन आंकड़ों से यह पता चल रहा है कि स्वास्थ्य विभाग के प्रयास ने रंग लाया है और जिले में कोरोना की रफ्तार अब थमने लगी है.

लगभग छह लाख लोगों की हो चुकी है जांच:
सिविल सर्जन ने बताया कि जिले में अब तक लगभग छह लाख लोगों की कोरोना जांच हो चुकी है. कोरोना की रफ्तार को रोकने में जांच की अहम भूमिका रही. जितने ज्यादा लोगों की जांच हुई, उससे दूसरे व्यक्ति में कोरोना का संक्रमण नहीं हुआ. इस तरह से कोरोना की रफ्तार पर भी जिले में ब्रेक लगा.

10 मरीज ही रह गए हैं कोरोना के जिले में:
जिले में अब कोरोना के 10 मरीज ही रह गए हैं. जिले का रिकवरी रेट 99% के ऊपर है. साथ ही कोरोना के मरीज नहीं होने के कारण घंटाघर स्थित कोविड केयर सेंटर को भी अब बंद कर दिया गया है. सभी मरीज होम आइसोलेशन में अपना इलाज करवा रहे हैं. साथ में स्वास्थ्य विभाग मरीज की निगरानी भी कर रहा है.

कोरोना की गाइडलाइन का पालन करना जरूरी:
सिविल सर्जन ने बताया कि यह बात सही है कि कोरोना की रफ्तार कम हो गई है. मरीजों की संख्या अब कम हो गई है, लेकिन इसके बावजूद लोगों को कोरोना की गाइडलाइन का पालन करना चाहिए. घर से निकलते वक्त मास्क लगाना चाहिए और भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचना चाहिए. इसके अलावा दो गज की सामाजिक दूरी का भी ख्याल रखना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.