युवाओं में संक्रमण नहीं फैले, जिला स्कूल में हुआ टीकाकरण

सदर अस्पताल का टीकाकरण केंद्र जिला स्कूल शिफ्ट

संक्रमण को रोकने स्वास्थ्य विभाग ने उठाया कदम

भागलपुर, 11 मई ।

कोरोना की दूसरी लहर को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग लगातार कदम उठा रहा है। इसी दिशा में सदर अस्पताल का टीकाकरण केंद्र मंगलवार को जिला स्कूल शिफ्ट कर दिया गया। यहां पर दो टीकाकरण केंद्रों पर 18 से 44 साल के युवाओं को तो एक पर 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को कोरोना के टीके दिए गए। दरअसल, जब से 18 साल से अधिक उम्र के युवाओं को कोरोना का टीका देना शुरू किया गया है, तब से सदर अस्पताल स्थित टीकाकरण केंद्रों पर काफी संख्या में भीड़ उमड़ रही थी। इसके अलावा सदर अस्पताल में कोरोना जांच व इलाज भी होता है। इस कारण भी वहां भीड़ उमड़ती है। स्वास्थ्य विभाग ने एहतियातन यह कदम उठाया है।

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. मनोज कुमार चौधरी ने बताया कि कोरोना को लेकर लगातार सतर्कता बरती जा रही है। टीकाकरण केंद्रों पर भीड़ की वजह से संक्रमण नहीं फैले, इस वजह से यह कदम उठाया गया है। काफी तादाद में युवावर्ग टीकाकरण के लिए आ रहे हैं। आज लगातार तीसरे दिन चार हजार से अधिक युवाओं को टीके दिए गए। इसके अलावा 45 से अधिक उम्र के लोगों के अलावा छूटे हुए स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी कोरोना के टीके दिए जा रहे हैं। साथ ही कोरोना का बूस्टर डोज लेने वाले लोगों की संख्या भी काफी रहती है। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए टीकाकरण केंद्र को सदर अस्पताल से जिला स्कूल शिफ्ट कर दिया गया है।

सामाजिक दूरी का किया गया पालनः जिला स्कूल के तीनों टीकाकरण केंद्रों पर मंगलवार को सामाजिक दूरी का पालन किया गया। जिला स्कूल में अभी कक्षाएं भी नहीं चल रही हैं। इस वजह से वहां पर काफी जगह थी। लोगों को दो गज की दूरी का पालन कराया गया। कोरोना का टीका लेने के लिए आने वालों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य है। इसके अलावा सभी स्वास्थ्यकर्मियों से भी कोरोना की गाइडलाइन का पालन हर हाल में करने के लिए कहा गया है। वे लोग केंद्रों पर ऐसा करते दिखे भी।

30 मिनट तक की गई निगरानीः डॉ. चौधऱी ने बताया कि कोरोना टीका लेने वाले लाभुकों की 30 मिनट तक निगरानी की गई। टीका पड़ने के बाद स्वास्थ्यकर्मी 30 मिनट तक स्वास्थ्यकर्मियों की देखरेख में रहे। सभी कुछ सामान्य रहने के बाद लाभुकों को छोड़ दिया गया। जो टीका का पहला डोज लेने आए थे, उन्हें दूसरे डोज समय पर आकर अवश्य लेने को कहा गया। साथ ही जिन लोगों ने बूस्टर डोज लिया, उनका टीकाकरण पूरा हो गया। डॉ. चौधरी ने बताया कि इस दौरान लाभुकों से टीका का बूस्टर डोज अवश्य लेने की अपील की गई। जो लोग ऐसा नहीं करेंगे, उनका टीकाकरण पूरा नहीं होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: