राज्य में एचआईटी एप पर डाटा अपलोड करने वाला अग्रणी जिला बना जमुई : डीएम

  • डाटा अपलोड के लिए 109 एएनएम को किया गया प्रतिनियुक्त।
  • नामित एप पर 520 में से 477 कोरोना संक्रमितों का डाटा अपलोड।
  • जमुई में एचआईटी एप पर डाटा अपलोड करने का काम शुरू।

जमुई, 22 मई –
जमुई जिला एच आईटी एप पर कोरोना संक्रमित लोगो का डाटा अपलोड करने के मामले मे राज्य मे अग्रणी जिला बन गया है। जिले के प्रखंडों मे होम आइसोलेशन मे उपचाराधीन 520 कोरोना संक्रमित मे 477 से सम्बंधित डाटा एच आईटी एप अपलोड किया जा चुका है। यह जानकारी जमुई के जिलाधिकारी अवनीश कुमार सिंह ने दी है। उन्होंने बताया इस काम मे 109 एएनएम को प्रतिनियुक्त किया गया है। आगे कहा कि जिले के सभी प्रखंडों के ग्रामीण इलाकों में होम आइसोलेशन ट्रैकिंग (एचआईटी) एप पर कार्यारंभ हो गया है।प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी , एएनएम के साथ अनुश्रवण एवं मूल्यांकन सहायकों के द्वारा कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति जो घर पर ही पृथक – वास में हैं उनकी ट्रैकिंग कर उनके घर पर ही जाकर उनका तापमान और ऑक्सीजन लेवल की जांच कर उसे एचआईटी एप पर अपलोड करने लगे हैं। उन्होंने सम्बंधित जनों को इस कार्य में तेजी लाए जाने का निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना वायरस को परास्त करने के लिए यह सशक्त माध्यम है।
उन्होंने ने आगे कहा कि जिले के संक्रमित व्यक्तियों का ऑक्सीजन लेवल और तापमान की जांच कर सम्बंधित पोर्टल पर अपलोड किए जाने के लिए कुल 109 एएनएम को प्रतिनियुक्त किया गया है। उन्होंने बताया कि अब तक जिले के सभी प्रखंडों के ग्रामीण इलाकों में पृथक – वास में निवासित कुल 520 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों में से 477 लोगों को इस एप के माध्यम से ट्रैक कर उनका ऑक्सीजन स्तर और तापमान अपलोड किया जा चुका है और शेष कार्य प्रगति पर है।
जिलाधिकारी ने हर्ष प्रकट करते हुए कहा कि जिले के पदाधिकारियों , चिकित्सकों , स्वास्थ्यकर्मियों के भागीरथी प्रयास से जमुई जिला इस एप के माध्यम से कोरोना संक्रमित व्यक्तियों को ट्रैक कर अपलोड करने में राज्य में अग्रणी जिला के रूप में नामित किया जाने लगा है।
उन्होंने कोरोना वायरस को हराने के लिए पदाधिकारियों, कर्मियों के साथ जिलावासियों से सकारात्मक सहयोग की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: