ठंड में कोरोना से रहें सतर्क


कोरोना के लक्षण में लगातार हो रही है बढ़ोतरीकोरोना मरीज को ठीक होने में लग रहा है ज्यादा वक्त
बांका, 27 नवंबर।मौसम में तेजी से बदलाव हो रहा है। न्यूनतम पारा 10 डिग्री के नीचे चला गया है। ऐसे मौसम में लोग वैसे ही सर्दी, खांसी और बुखार की चपेट में आते हैं। इस वजह से कोरोना मरीजों की पहचान में थोड़ा सा समय लग जा रहा है। साथ ही कोरोना के लक्षण वाले मरीज भी ज्यादा मिलने लगे हैं।
कोरोना की गाइडलाइन का पालन करना चाहिए-शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ सुनील कुमार चौधरी कहते हैं कि कोरोना के लक्षण में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। ठंड का मौसम शुरू हो जाने की वजह से लक्षण वाले मरीज ज्यादा मिल रहे हैं। इस मौसम में फ्लू के मामले ज्यादा आते हैं। इस वजह से कोरोना मरीजों की पहचान में भी देरी हो रही है,जो कि चिंताजनक है। इसलिए लोगों को कोरोना की गाइडलाइन का पालन करना चाहिए।
कोरोना मरीजों को ठीक होने में लग रहा है ज्यादा समय: डॉ चौधरी ने बताया कि पहले 10 दिन में कोरोना के मरीज स्वस्थ हो जा रहे थे, लेकिन अब ठीक होने में 15 से 20 दिन लग जा रहा है। इस वजह से मरीजों को दवा का ज्यादा डोज देना पड़ जा रहा है। इस वजह से भी मरीजों को परेशानी हो रही है। इसलिए सावधानी में ही बेहतरी है.
हर हाल में मास्क पहने और सामाजिक दूरी का पालन करें: डॉक्टर चौधरी कहते हैं कि अगर आप दो लोग एक साथ हों और किसी ने भी मास्क नहीं पहना है तो कोरोना के संक्रमण की संभावना अधिक रहती है। अगर दोनों ने मास्क पहना हो तो भी थोड़ा संक्रमण की संभावना रहती है, लेकिन अगर सामाजिक दूरी का पालन करते हुए मास्क पहने हों तो संक्रमण की संभावना बिल्कुल शून्य हो जाती है। इसलिए मास्क पहनते हुए दो गज की सामाजिक दूरी का पालन अवश्य करें।
मुंह, नाक और आंख को हाथ से स्पर्श करने से बचें: डॉ. चौधरी कहते हैं कि कहीं से आने के बाद निश्चित तौर पर 20 सेकंड तक साबुन से हाथ धो लें । हाथ धोने से पहले मुंह को नाक और आंख को हाथ से छूने से बचें। ऐसा करने से बाहर से हाथ के जरिए वायरस का शरीर के अंदर प्रवेश नहीं होगा। इससे आप संक्रमण से भी बचे रहेंगे।
कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल: • व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढकें .• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की  दूरी बनाए रखें.• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें • किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें • बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *