मंदिर में कोरोना की गाइडलाइन का करा रहे पालन

श्रद्धालुओं को कोरोना के प्रति जागरूक कर रहे अकाउंटेंट अनुज कुमार मिश्रा
स्कूल से छुट्टी के बाद मंदिर पहुंच अपने काम में लग जाते

भागलपुर, 20 अक्टूबर।
नारायणपुर प्रखंड के भ्रमरपुर गांव में मां दुर्गा का सिद्ध पीठ मंदिर है। इस मंदिर की प्रसिद्धि पास के ही नहीं, बल्कि दूर-दराज के गांवों में भी है। इसलिए आसपास के गाँव से भी महती तादाद में श्रद्धालु यहां पर आते हैं। अभी कोरोना काल में भी प्रशासन के तमाम निर्देश के बावजूद कुछ लोग यहां पर आ ही जा रहे हैं। इस वजह से कभी-कभी भीड़ भी हो जा रही है। ऐसे में कोरोना के नियमों का सही तरीके से पालन नहीं हो रहा था। लेकिन गांव के ही अनुज कुमार मिश्रा ने इस जिम्मेदारी को अपने कंधे पर लिया है । शाम को जब लोग आरती के लिए मंदिर आते हैं, उस समय वे मंदिर के गेट पर खड़े हो जाते हैं। वे मंदिर आने वाले सभी श्रद्धालू से कोरोना के नियमों का पालन करने के लिए कहते हैं।

दो गज की दूरी है जरूरी:
मंदिर आने वाले सभी लोगों से अनुज कुमार मिश्रा दो गज की शारीरिक दूरी बनाकर रखने को कहते हैं। भीड़ से बचने की सलाह देते हैं। दो लोगों के बीच 2 गज की दूरी का ख्याल रखने की अपील श्रद्धालुओं से लगातार करते रहते हैं।

मास्क और सैनिटाइजर जरूरी:
शाम के वक्त पूजा और आरती के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को अनुज मास्क और सैनिटाइजर पास में रखने की अपील करते हैं। श्रद्धालुओं को कहते हैं कि आप मास्क पहनकर जरूर आएं। पास में सैनिटाइजर रखें। घर पहुंचने के बाद अपने हाथ को सैनिटाइज जरूर करें।

कस्तूरबा विद्यालय में अकाउंटेंट हैं अनुज :
प्रखंड क्षेत्र के कस्तूरबा विद्यालय में अकाउंटेंट के पद पर कार्यरत हैं अनुज कुमार मिश्रा। उनसे जब पूछा गया कि इस कार्य के करने के पीछे प्रेरणा कहां से आई तो उन्होंने बताया कि पहले ऐसा लग रहा था कि इस बार भीड़ नहीं होगी। लेकिन माता के प्रति आस्था रखने वाले श्रद्धालु कभी-कभार कोरोना की गाइडलाइन को भूल जाते हैं और भीड़ लग जाती है। मैंने सोचा कि किसी को यह जिम्मेदारी उठानी पड़ेगी। शाम 4 बजे स्कूल से आने के बाद इस काम में लग जाता हूं।

कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल:
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढकें .
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंकें .
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *