घर पर ही छठ मनाकर कोरोना से करें अपना बचाव

जब तक दवाई नहीं निकल जाती है तब तक सावधानी ही बचाव है

भागलपुर, 19 नवंबर

छठ की तैयारी पूरी हो गई है. आज पहला अर्घ्य दिया जायेगा. इस बार कोरोना के साए में छठ पर्व मनाया जा रहा है. घाटों पर जाने के लिए तमाम तरह की बंदिशें हैं. इस वजह से लोग अभी भी तय नहीं कर पा रहे हैं कि घर पर मनाएं छठ या बाहर. ऐसे लोग बाहर जाने से बचें और घर पर ही छठ मनाकर कोरोना से बचें.

मायागंज अस्पताल के कोरोना वार्ड के नोडल प्रभारी डॉ हेमशंकर शर्मा कहते हैं कि अभी के समय में घाट पर जाकर छठ मनाना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद नहीं है. इसलिए लोग घरों पर ही छठ मनाए. वैसे भी पर्व जिंदगी बढ़ाने के लिए होता है ना कि जिंदगी देने के लिए. अभी भागलपुर का रिकवरी रेट 97% है. इसे बरकरार रखने के लिए एहतियात बरतना बहुत जरूरी है. कोरोना की जब तक कोई दवा नहीं मिल जाती है तब तक सावधानी से ही हम इसका बचाव कर सकते हैं.

बड़ी बाल्टी में पानी डालकर मनाएं छठ: छठ मनाने के लिए बहुत लोगों ने घर के आंगन में या फिर छत पर व्यवस्था कर ली है, लेकिन अभी भी जिन लोगों ने व्यवस्था नहीं की है वह घर में बड़ी बाल्टी या टब में पानी डालकर भगवान भास्कर को अर्घ्य दे सकते हैं. इससे आप भीड़ से भी बच जाएंगे और आपकी पूजा भी हो जाएगी. इससे कोरोना के संक्रमण का खतरा भी कम रहेगा.

दूसरे शहर से आने वाले भी बरते सावधानी: उधर सिविल सर्जन विजय कुमार सिंह ने बताया कि छठ के मौके पर बड़ी संख्या में दिल्ली या फिर अन्य शहरों से लोग घर आए हैं. उन्हें भी सावधानी बरतने की जरूरत है। शारीरिक दूरी का पालन करें और हमेशा मास्क लगाकर रहें. किसी भी वस्तु को छूने के बाद 20 सेकंड तक हाथ को जरूर धो लें.

जांच के लिए लगाए जाएंगे शिविर: सिविल सर्जन ने बताया कि छठ के दिन तिलकामांझी चौक और स्टेशन पर कोरोना जांच शिविर लगाया जाएगा. इसके अलावा अस्पतालों में भी जांच की व्यवस्था रहेगी. इसलिए अगर किसी भी तरह की परेशानी हो तो तत्काल अपनी कोरोना करा लें. इससे आप भी सुरक्षित रहेंगे और आपके संपर्क में आने वाले लोग भी.

कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल:
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढंके.
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *