कोविड-19 के दौर में पूरी मुस्तैदी से दोहरी जिम्मेदारी निभा रहीं सेविका कुमारी अंशु

  • खगड़िया के गोगरी में संचालित केंद्र संख्या 148 की है सेविका
  • कोविड-19 से बचाव को क्षेत्र में लोगों को करती रहीं जागरूक

खगड़िया, 11 नवंबर।
कोविड-19 से बचाव के लिए सामुदायिक स्तर पर लोगों को जागरूक करने एवं इसकी रोकथाम के लिए आँगनबाड़ी कर्मियों का काफी सकारात्मक योगदान रहा है। ऑगनबाड़ी कर्मियों ने खुद की परवाह किए बगैर लोगों को जागरूक करने के साथ घर-घर जाकर कोविड-19 से बचाव जारी गाइडलाइन का पालन करने के लिए प्रेरित भी किया। ऐसे ही ऑगनबाड़ी कर्मी में गोगरी के केंद्र संख्या 148 की सेविका कुमारी अंशु का भी नाम शामिल है। उन्होंने कोविड-19 के दौर में पूरी निष्ठा के साथ अपने कर्तव्य का पालन किया। तमाम चुनौतियों के बावजूद कभी अपने जिम्मेदारी से पीछे नहीं हटी और मजबूत इच्छाशक्ति की बदौलत चुनौतियों को पीछे छोड़ लोगों को जागरूक करती रहीं ।

  • कोविड-19 जाँच के लिए भी लोगों करती रहीं प्रेरित :-
    गोगरी बाल विकास परियोजना कार्यालय की सीडीपीओ नीना सिंह ने बताया कि सेविका कुमारी अंशु ना सिर्फ कोविड-19 से बचाव के लिए लोगों को जागरूक और प्रेरित करती रहीं बल्कि, कोविड-19 जाँच के लिए लोगों को जागरूक कर स्वास्थ्य संस्थान तक जाने में मदद की। दरअसल, शुरुआती दौर में लोग इसे महज अफवाह मानकर जाँच कराने को इच्छुक नहीं होते थे। किन्तु, सेविका कुमारी अंशु ने ऐसे दौर में लोगों को जाँच के लिए प्रेरित और जाँच केंद्र तक पहुँचाने में भी सहयोग करती रहीं। जिसका सकारात्मक प्रभाव यह रहा कि लोग खुद जाँच कराने के लिए सेविका कुमारी अंशु के घर आकर जाँच की प्रक्रिया की जानकारी लेने लगे और उत्साह के साथ जाँच को प्राथमिकता देने लगे।
  • विभागीय कार्य में भी अव्वल रहीं सेविका कुमारी अंशु :-
    एनएनएम के जिला समन्वयक अम्बुज कुमार ने बताया कि कोविड-19 के दौर तमाम चुनौतियों के बावजूद विभागीय कार्य में भी सेविका अंशु कुमारी अव्वल रहीं । इन्होंने कोविड-19 के दौर में लागू लॉकडाउन की अवधि में भी घर-घर जाकर विभाग से संबंधित सरकार द्वारा चलाई जा रही योजना की जानकारी दी और योजना का लाभ लोगों को दिलाने में भी अव्वल रही। इसके अलावा वह घर- घर जाकर गांव के लोगों को स्वच्छता के बारे में जागरूक करती हैं। कोविड-19 से बचाव के लिए लोगों को मास्क पहनने और घरों से कम निकलने की सलाह देती रहीं । लोगों को बाहर से घर आने पर हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल, साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखने आदि के लिए प्रेरित करती रहीं। वह लोगों को दो गज की शारीरिक दूरी का पालन करने एवं बाजार या सब्जी मंडी में एक- दूसरे से दूरी बनाकर रहने की सलाह भी देती रहीं।
  • जागरूकता का दिख रहा है असर : –
    जागरूकता का गांव के लोगों में असर पड़ रहा है। बाहर निकलते वक्त लोग भीड़ लगाने से बच रहे हैं। लोगों ने मास्क पहनना शुरू कर दिया है। सैनिटाइजर का भी लोग इस्तेमाल कर रहे हैं। सेविका कुमारी अंशु कहती हैं कि यह विपत्ति का समय है। इस वक्त लोगों को को बढ़-चढ़कर अपनी भूमिका निभानी चाहिए। खासकर जब तक कोरोना संक्रमण का खतरा है तब तक तो लोगों को निश्चिंत होकर नहीं बैठना चाहिए और इससे बचाव के लिए सतर्कता जारी रखना जरूरी है।
  • इन मानकों का करें पालन, कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर : –
  • मास्क और सैनिटाइजर का नियमित रूप से उपयोग करें।
  • हमेशा दो गज की शारीरिक – दूरी का पालन करें।
  • खुद के साथ दूसरों को भी जागरूक करें।
  • लगातार साबुन या अल्कोहल युक्त पदार्थों से हाथ धोएं।
  • भीड़ – भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.