कोविड-19 से मास्क व शारीरिक-दूरी ही बचाव का सबसे बेहतर उपाय

  • शारीरिक-दूरी का हमेशा करें पालन, अनिवार्य रूप से करें मास्क का उपयोग
  • खुद के साथ दूसरों को भी करें जागरूक व प्रेरित, नहीं बढेंगा संक्रमण

खगड़िया, 07 अक्तूबर, 2020
कोविड-19 से बचाव के लिए सबसे बेहतर और आसान उपाय शारीरिक-दूरी का पालन करना और अनिवार्य रूप से मास्क का उपयोग करना है। इसलिए हमेशा चिकित्सकों के अनुसार निर्धारित शारीरिक-दूरी का हमेशा पालन करें और मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें। इतना ही नहीं खुद के साथ-साथ इसके लिए दूसरों को भी जानकारी दें और जागरूक व प्रेरित भी करें। क्योंकि जब दूसरों को जागरूक करना अपना जिम्मेदारी समझेंगे तभी संक्रमण की शिकायत पर विराम लगेगा और सामुदायिक स्तर पर लोग जागरूक होंगे। ऐसा करने पर कोविड-19 से ना सिर्फ आप सुरक्षित रहेंगे, बल्कि पूरा समाज भी सुरक्षित रहेंगे और संक्रमण का खतरा उत्पन्न नहीं होगा।

नाक, मुँह और ऑख ही कोविड-19 के संक्रमण का मुख्य स्रोत
जिला सिविल सर्जन पदाधिकारी डॉ. अजय कुमार सिंह ने बताया कि कोविड-19 का संक्रमण नाक, मुँह और ऑख से ही शरीर में प्रवेश करना मुख्य स्त्रोत है। इसलिए, इससे बचाव के शारीरिक-दूरी का पालन करना और अनिवार्य रूप से मास्क का उपयोग करना सबसे बेहतर और आसान उपाय है। इन दोनों गाइडलाइन का पालन कर लोग संक्रमण के दायरे से दूर रह सकता है। इसलिए, समाज के हर लोगों को इसे अपना आदतों में शामिल करना होगा। ताकि समाज के हर लोग कोविड-19 के खतरे से दूर रहें। इसके साथ-साथ खासकर यात्रा के दौरान लोगों को हैंड सेनेटाइजर का भी उपयोग करना चाहिए।

चिकित्सकों के सलाह के अनुसार ही करें दवाई का सेवन
डॉ. अजय कुमार सिंह ने बताया कोविड-19 के दौर में इससे बचाव के लिए या फिर उपचाराधीन व्यक्ति चिकित्सकों के सलाह के अनुसार ही दवाई या अन्य उपाय का सेवन करें। दरअसल, ऐसा देखा जा रहा है कि लोग कोविड-19 के दौर में इससे बचाव के असीमित काढ़ा और दवाई का सेवन कर रहे हैं। जिसका लोगों के शरीर दुष्प्रभाव हो रहा है। काढ़ा का अधिक सेवन करने से पेट में दर्द, जलन, अचपच की समस्या लोगों में ज्यादा हो रही है। इसलिए, बेहतर होगा कि शारीरिक-दूरी, मास्क व चिकित्सकों के सलाह के अनुसार ही कोविड-19 से बचाव से संबंधित उपायों का पालन करें।

लापरवाही से लोगों में होता है संक्रमण का खतरा
डॉ. अजय कुमार सिंह ने बताया जिन लोगों की प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। उसके लिए कोविड-19 घातक नही है। बल्कि, गाइडलाइन का पालन में लापरवाही बरतने वाले लोगों के लिए यह घातक है। इसलिए, हरसंभव स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करें और दूसरों को पालन करने के लिए प्रेरित करें।

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए ऐसे रहें सतर्क
 व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
 बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
 साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
 छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढंके.
 उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
 घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
 बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Notice: Undefined index: amount in /home/u709339482/domains/mobilenews24.com/public_html/wp-content/plugins/addthis-follow/backend/AddThisFollowButtonsHeaderTool.php on line 82
%d bloggers like this: