सदर अस्पताल में प्रशिक्षण कार्यशाला का हुआ आयोजन

  • वर्चुअल माध्यम से जुड़े जिले के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को सिविल सर्जन ने किया संबोधित
  • सुरक्षित प्रसव, गर्भवती और नवजात की सुरक्षा पर नर्सों के प्रशिक्षण का बताया गया महत्व
  • प्रशिक्षण में केयर इंडिया दे रहा है तकनीकी सहयोग, एवीडी एवं ड्रिल बैग उपलब्ध कराया
  • प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को बताया गया ड्रिल बैग की उपयोगिता एवं महत्व

मुंगेर, 30 सितम्बर।
नवजात और गर्भवती की देखभाल के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा समय-समय पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता रहा है। वहीं कई ऐसी योजनाएं हैं जिसके पूर्ण कार्यान्वयन पर विभाग अति गंभिर है। जच्चा और बच्चा की पूर्ण सुरक्षा भी इसमें से एक है। इसी क्रम में बुधवार को मुंगेर के जिला स्वास्थ समिति सभागार में एक वर्चुअल स्वास्थ्य कार्यक्रम का आयोजन हुआ। कार्यकम में सुरक्षित प्रसव, गर्भवती और नवजात की सुरक्षा पर विशेष चर्चा की गई। कार्यक्रम में सिविल सिविल सर्जन डॉक्टर पुरुषोत्तम कुमार ने बताया आंगनबाड़ी से लेकर स्वास्थ्य केंद्रों तक में बेहतर सुविधा प्रदान करने को लेकर लगातार कवायद जारी है। जच्चा एवं बच्चा की पूर्ण सुरक्षा और उचित जांच को बढ़ावा देने के लिए नर्सों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। आपातकालीन मातृत्व एवं नवजात तत्परता (अमानत) ज्योति कार्यक्रम के तहत भी सभी स्टाफ नर्सेज और एएनएम की क्षमता को बनाए रखने तथा उनके कौशल को और ज्यादा निखारने के लिए उन्हें तकनीकी प्रशिक्षण देकर सशक्त बनाया जा रहा है। इससे वह अस्पतालों में अपनी सेवा को और बेहतर ढंग से दे सकेंगी। केयर इंडिया इसमें तकनीकी सहयोग दे रहा है।

नर्सों को किया जा रहा है प्रशिक्षित, एवीडी उपलब्ध कराया गया :
सिविल सर्जन डॉक्टर पुरुषोत्तम कुमार ने बताया जिले के कुल 9 ब्लॉक सहित जिला सदर अस्पताल के साथ 10 अस्पतालों की दो-दो नसों को सुरक्षित प्रसव और नवजात की सुरक्षा के लिए विशेष प्रशिक्षण दिया गया है। वहीं कार्यक्रम में केयर इंडिया के अजय आर्या ने बताया ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस सत्र (VHSND) पर केयर इंडिया की ओर से एवीडी (वैकल्पिक टीका वितरण) बैग उपलब्ध कराया गया है। जच्चा एवं बच्चा की सुरक्षा के साथ दंपत्ति को सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराना इसका लक्षय है।

ड्रिल बैग से मिलेगी मदद:
वहीं कार्यकम में बताया गया कि अमानत ज्योति कार्यक्रम के तहत सभी स्टाफ नर्सों और एएनएम को उनकी कौशल क्षमता को बनाए एखने के लिए केयर इंडिया की ओर से अमानत अस्पताल को ड्रिल बैग दिया गया है। ड्रिल बैग में बीपी मशीन, चाइल्ड टेस्ट व बेबी किट सहित अन्य आवश्यक जांच किट उपलब्ध रहेंगे। बैग में मौजूद किट की मदद से गर्भवती और शिशु के सेहत जानकारी नर्सों को मिलती रहेगी। इसकी उपयोगिता और कीट से स्वयं स्किल्ड होकर नर्स बेहतर स्वास्थ्य सेवा देने की दिशा में ओर अग्रसर होंगी।

वर्चुअल जूम कार्यशाला में स्वास्थ्य अधिकारियों को दिया प्रशिक्षण:
कार्यक्रम के दौरान वर्चुअल जूम माध्यम से जुड़े जिले के सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों एवं स्वास्थ्य कर्मियों को सिविल सर्जन डॉक्टर पुरुषोत्तम कुमार ने ड्रिल बैग की उपयोगिता एवं उद्देश्य बताया। उन्होंने बैग के मौजूद किट का एक-एक कर प्रदर्शन करते हुए उसका महत्व और उपयोग भी सभी को समझाया। कार्यक्रम में सिविल सर्जन डॉक्टर पुरुषोत्तम कुमार के अलावा डीपीएम नसीब रजी, केयर इंडिया से अजय आर्या, डॉ. नीलू व अस्पताल की नर्स व अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Notice: Undefined index: amount in /home/u709339482/domains/mobilenews24.com/public_html/wp-content/plugins/addthis-follow/backend/AddThisFollowButtonsHeaderTool.php on line 82
%d bloggers like this: