अयोध्या के नगर निगम पार्षद का हंगामा

अयोध्या – धर्मनगरी अयोध्या में नगर निगम के रामकोट वार्ड के पार्षद रमेश दास ने निर्माण विभाग के अधिकारियों पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है और कार्यवाही की मांग की है। दरसल अयोध्या में नगर निगम अयोध्या के द्वारा बनाये गए सड़कों व सार्वजनिक शौचालय का लोकार्पण करने के द्वारा स्थानीय पार्षद व कार्यकर्ताओं को सूचना न देने के विरोध में जमकर हंगामा हुआ। इस हंगामा के दौरान नगर निगम के महापौर भी मौके पर मौजूद रहे।

नगर निगम अयोध्या द्वारा आज हुए सड़कों वास्तव चाले के लोकार्पण के दौरान नगर निगम के पार्षद रमेश दास ही नहीं बल्कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता भी अधिकारियों के रवैए से नाराज दिखे। रामकोट वार्ड क्षेत्र स्थित ब्रह्मकुंड गुरुद्वारे के पास शौचालय के लोकार्पण करने के दौरान स्थानीय पार्षद रमेश दास ने अधिकारियों पर जमकर बरसे यही नहीं इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के कुछ कार्यकर्ता भी अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर की।

वही रामकोट वार्ड के पार्षद रमेश दास ने बताया कि किन नगर निगम के अधिकारी व कर्मचारियों से कोई विवाद नहीं है लेकिन क्षेत्र में शौचालय का निर्माण कराया जा रहा था इसकी जानकारी भी नहीं दी गई और नगरायुक्त और महापौर के द्वारा इस बजट को भी पास करा दिया गया था संज्ञान में नहीं दिया गया जबकि महापौर और नगरायुक्त ईमानदार है लेकिन छोटे कर्मचारी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और विकास में रोड़ा बन रहे हैं। वही कहा कि निर्माण विभाग का चीफ जितेंद्र कुमार कमीशन में डूबा हुआ है।

नगरायुक्त ने ध्यान दिया हुआ है और जितने भी कार्य किए गए हैं किसी भी प्रकार का पेमेंट नहीं किया जाएगा जांच गुणवत्ता के आधार पर नहीं की जाएगी तब तक भुगतान नहीं होने दिया जाएगा।वहीं भारतीय जनता पार्टी के नेता रत्नेश मिश्रा ने भी आरोप लगाया है कि यहां के अधिकारी स्थानीय लोगों को किसी प्रकार की सूचना तक नहीं देना चाहते इस मामले में अधिकारियों की चूक हुई है जिसकी जांच की जाएगी।

नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने शौचालय के लोकार्पण के बाद बताया कि आज अयोध्या में स्वच्छ भारत मिशन के तहत 3 शौचालय बाद तीन सड़कों का लोकार्पण किया गया है। वही इस दौरान हुए हंगामे को लेकर महापौर ने बताया कि सूचना दिए जाने को लेकर विवाद था अब किसी प्रकार की नाराजगी नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *