महान स्वतंत्रता सेनानी श्याम नारायण सिंह की 53 वीं पुण्य तिथि पर वेबिनार का आयोजन किया गया

  • देश भर के विशिष्ट व्यक्तित्व ने अपने विचार रखें

नईदिल्ली-

महान स्वतंत्रता सेनानी, पूर्व विधायक, समाजसेवी, शिक्षाविद एवं सांप्रदायिक सौहार्द के मसीहा श्याम नारायण सिंह की 53 वीं पुण्य तिथि पर खास वेबिनार का आयोजन 13 मई 2021 को किया गया। जिसमें देशभर के कई विशिष्ट व्यक्तित्व अपने विचार रखें। इस मौके पर श्याम नारायण सिंह फाउंडेशन के फाउंडर व चेयरमैन डॉ. कैलाश बिहारी सिंह ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि इस तरह के आयोजन से जहां हम श्याम नारायण सिंह को याद कर रहे हैं, वहीं उनके विचार को आगे बढ़ाने का कार्य भी किया जा रहा है। श्याम नारायण सिंह ने समाज में हर वर्ग के विकास के लिए कार्य किया है इसी को आज के युवाओं को जानने की जरूरत है।
डॉ. कैलाश बिहारी सिंह ने मुख्य अतिथि के रूप में कार्यक्रम में भाग ले रहे भाजपा प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इनका लगातार स्नेह फाउडेंशन को मिलता रहा है।
मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद भाजपा प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने श्याम नारायण सिंह को याद करते हुए कहा कि उन्होंने पूरे नालंदा जिले में जिस प्रकार से शिक्षा की बयार बहाई वह अद्भूत है। जिसके कारण ही आज नालंदा शिक्छा के क्षेत्र में अग्रणी जिला है। श्याम बिहारी सिंह एकता के प्रतीक थे जिन्होंने सबको साथ लेकर चलने का आह्रवान किया जिसकी आज भी मिसाल दी जाती है।
इस खास वेबिनार को गेस्ट ऑफ ऑनर के रूप में मौजूद जदयू नेता राजीव रंजन पटेल ने कहा कि आज हम उस व्यक्तित्व को याद कर रहे हैं जिन्होंने कई ऐसे कार्य किए हैं जिसकी समाज में मिसाल दी जाती है। आज युवाओं को अपने अतीत को याद दिलाने का समय है ताकि देश को आगे ले जाने में उनकी महत्ता को जाना जा सके.
इस मौके पर जयहिंद नेशनल पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि हम लोग श्याम बाबू के कार्यों से प्रेरणा लेते रहे हैं। हमारी कोशिश यही है कि आज हर वर्ग के युवा उन्हें याद तो करे ही साथ ही उनके द्वारा किए गए कार्यों के बारे में भी जाने जिससे की समाज को और आगे ले जाया जाए।
नेल्सन मंडेला फाउन्डेशन के डॉ.राजकुमार बी टॉक ने कहा कि श्याम बाबू ने जो कार्य कर दिए हैं वह मील का पत्थर है। आज उनका भी फाउडेंशन कई सेक्टर में कार्य कर रहा है। इस तरह के आयोजन से हमें अपने महापुरुषों के बारे में जानकारी हासिल होती है।
वेबिनार को संबोधित करते हुए प्रसिद्ध समाजसेवी संजीव कुमार ने कहा कि हमारी कोशिश है कि युवा आज स्वरोजगार की ओर बढ़ें। यह परिकल्पना हमारी नहीं बल्कि श्याम नारायण सिंह की थी जिन्होंने कई ऐसे कार्य किए जिसकी आज मिसाल दी जा रही है। हमारी भी कोशिश है कि हम उनके बताए मार्ग पर आगे बढ़ें।
कवियत्री लता परासर ने जहां श्याम नारायण सिंह की याद में कविता पाठ किया वहीं अपनी मांग रखते हुए कहा कि संगोष्ठी आयोजित की जानी चाहिए। ताकि उनके बताए रास्तों पर चला जा सके। इसके लिए लाइब्रेरी सहित कई अन्य चीजे नालंदा में किया जाना चाहिए।
इस मौके पर मगध शख्सियत के एडीटर इन चीफ मनोज कुमार ने कहा कि आज संकल्प लेने का वक्त है जिससे की सबका विकास तो होही साथ ही साथ साथ भी हो। श्याम बाबू सांप्रदायिक सौहार्द पैदा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी जिससे आज भी उस क्षेत्र में शांति है।
वेबिनार को संबोधित करते हुए द ट्रूथ वन के मुख्य संपादक चिंतरंजन बेहरा ने कहा कि निश्चिततौर पर डॉ कैलाश बिहारी सिंह ने श्याम नारायण सिंह के नाम पर फाउडेंशन चला रहे हैं इसे समाज को काफी लाभ पहुंचा है। कैलाश बिहारी सिंह ने श्याम बाबू के विचार को जगाए रखा है जिसके कारण ही आज हम एकजुट हुए हैं।
वेबिनार को संबोधित करते हुए पर्व ह्यूमन रिसोर्स के डायरेक्टर सत्येंद्र कुमार ने श्याम बाबू की जीवन चरित्र पर खास चर्चा की। उनके द्वारा किए गए कार्यों को आगे लेजाने का संकल्प भी लिया। सत्येंद्र कुमार ने श्याम नारायण सिंह को भारत रत्न दिए जाने की मांग की। जिसका भरपूर समर्थन मिला।
कार्यक्रम के अंत में कवि मिथिलेश ने अपनी कविता के माध्यम से श्याम नारायण सिंह को नमन किया।

इस मौके पर श्याम नारायण सिंह के पौत्र प्रभाकर श्याम ने कहा कि हमारी कोशिश है कि श्याम नारायण सिंह जी के बताए रास्ते पर चले। हमने कोशिश की है कि हमारे साथ के युवा उनके महान कार्य को भी जाने। हमने अपने दादाजी को नहीं देखा लेकिन उनके विचार हमारे साथ है जिसे हमने अपनाया है।
अंत में वेबिनार में शामिल सभी अतिथियों को धन्यवाद ज्ञापन करते हुए डॉ कैलाश बिहारी सिंह ने कहा कि हमने जो संकल्प लिया उसे आगे बढ़ाना है जिसके लिए फाउडेंशन कार्य कर रहा है। अभी इस संकट के समय सभी ने समय निकाला निश्चित रूप से यह भाव विभोर करने वाला वक्त है आगे आप सभी से निवेदन है कि आने वाले दिनों में वेबिनार में शामिल होंगे। डॉ कैलाश बिहारी सिंह ने पूर्व शिक्षा मंत्री व सांसंद वृषण पटेल के संदेश भी वेबिनार में पढ़कर सुनाया जिसमें उन्होंने संस्था को शुभकामनाएं दी और श्याम नारायण सिंह को याद किया।
गौरतलब है कि इस कार्यक्रम का प्रसारण लाइव इंडिया न्यूज और इंडिया लाइव एवं लाइव इंडिया के फेसबुक पर लाइव प्रसारण किया गया जिसमें हजारों दर्शक जुडें और अपने विचार रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: