पठानकोट का अमनदीप अस्पताल आया सुर्खियों में | Amandeep Hospital in Pathankot came in the headlines

-पूर्व फौजियों और उनके परिवारों के इलाज के लिए रक्षा मंत्रालय द्वारा दी जा रही सुविधा ईसीएचएस (एक्स सर्विसमेन कांट्रीब्यूटरी हेल्थ स्कीम) घोटालेबाज डाक्टरों और अस्पतालों के निशाने पर हैं। बड़े ग्रुप अमनदीप हास्पिटल पठानकोट ने यहां के मिलिट्री हास्पिटल स्थित ईसीएचएस पालीक्लीनिक के मेडिकल अफसरों और ऑफिसर इंचार्ज (ओआईसी) के फर्जी स्टैंप बना खुद ही उनके हस्ताक्षर कर मरीजों को भर्ती करते रहे और जरूरी नहीं होने पर भी उनकी भर्ती एक्सटेंड करते रहे। फर्जी स्टैंप और हस्ताक्षर पकड़ में आने पर अस्पताल को एसीएचएस से इम्पैनल कर सेना के अधिकारियों द्वारा जांच की जा रही है कि कब से यह गोरखधंधा अस्पताल द्वारा किया जा रहा था रीजनल सेंटर और सेना की जांच पिछले एक महीने से चल रही है लेकिन सेना का कोई अधिकारी कुछ बताने काे तैयार नहीं। अमनदीप में पंजाब के अलावा हिमाचल से भी बड़ी संख्या में मरीज आते हैं। बताते चले की जब टीम जांच करने आई तो अस्पताल प्रबंधन ने 2 कर्मचारियों को बनाया बलि का बकरा बना सस्पेंड कर दिया
व/ओ——-इस सबन्धी जब पुलिस अधिकारियों से बात की गई तो उन्होंने कहा कि अमनदीप अस्पताल से किसी घोटाले की शिकायत आई थी जिस के चलते पुलिस द्वारा अस्पताल में तैनात 2 कर्मचारियों पर मामला दर्ज कर कारवाई की जा रही है उन्होंने ने बताया कि आरोपी फरार है जिन्हें पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: