जम्मू कश्मीर में दाखिल होने के लिए जम्मू कश्मीर प्रशासन ने कोविड टेस्ट किया अनिवार्य

यूके से चले कोविड के स्टेन की वजह से भारत में कोविड मरीजों की गिनती लगातार बढ़ती जा रही है जिसे देखते हुए राज्य सरकारों द्वारा अपने अपने तरीके से इस महामारी से निपटने के लिए हल निकाले जा रहे हैं इसी के चलते जम्मू-कश्मीर प्रशासन की तरफ से अपनी सारी सरहदों को सील कर दिया गया है और जम्मू कश्मीर में दाखिल होने वाले हर शख्स का कोविड टेस्ट करवाया जा रहा है ताकि किसी भी संक्रमित मरीज को जम्मू कश्मीर में दाखिल होने से रोका जा सके जिसके चलते जम्मू कश्मीर में रोजगार के लिए जाने वाले लोगों में भारी रोष है और इसी रोज के चलते बीती 17 अप्रैल को इन लोगों द्वारा पठानकोट जम्मू राष्ट्रीय मार्ग जाम कर प्रदर्शन किया गया था और मसले के हल की मांग की गई लेकिन मसले का हल ना होता देख आज एक बार फिर इन लोगों द्वारा पठानकोट जम्मू राष्ट्रीय मार्ग को जाम किया गया और मांग की गई कि उन्हें इसको कोविड टेस्ट में कुछ राहत दी जाए
इस सबन्धी जब लोगो से बात की गई तो लोगो ने कहा कि पंजाब में आने पर किसी तरह की कोई भी पाबन्दी नही है लेकिन जम्मू कश्मीर प्रशसन द्वारा जम्मू में में दाखिल होने के लिए प्रशासन द्वारा कोविड टेस्ट अनिवार्य किया गया है जिस वजह से रोजग़ार के लिए कठुआ जाने वाले लोगो को खासा परेशान होना पड़ रहा है और इसी वजह से हम लोगो की तरफ से 17 अप्रैल को प्रदर्शन किया गया था जिस में जम्मू कश्मीर प्रशासन ने आश्वासन दिया था कि मसले का हल कर दिया जाएगा लेकिन उस के बावजूद मसले हाल नही हुआ जिस वजह से उन्हें आज फिर एक बार रोड जाम कर प्रदर्शन करना पड़ रहा है।  
इस सबन्धी जब पुलिस अधिकारियों से बात की गई तो उन्होंने वताया उनकी जम्मू कश्मीर प्रशासन के अधिकारियों से बात हुई है उन्होंने कहा कि उनके द्वारा इन लोगो के पास बनाये जा रहे है जोकि 15 दिनों के लिए मान्य होंगे ओर 15 दिन बाद फिर से इन लोगो को कोविड टेस्ट करवाना पड़ेगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.