कोरोना टीका को लेकर नहीं पालें कोई भ्रम, अफवाहों से बचकर रहें

सुरक्षा के सभी मापदंडों पर परखने के बाद ही लोगों को दिया जाएगा टीका

कोरोना टीकाकरण को लेकर स्वास्थ्य विभाग युद्धस्तर पर कर रहा है तैयारी

बांका, 23 दिसंबर

कोरोना टीकाकरण को लेकर सरकार की घोषणा के बाद से ही स्वास्थ्य विभाग युद्धस्तर पर इसकी तैयारी में जुट गया है. सरकार ने मुफ्त में सभी लोगों को टीका देने की घोषणा की है. सबसे पहले सरकारी और निजी स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना का टीका दिया जाएगा. इसके बाद बुजुर्गों, सरकारी कर्मचारियों फिर आमलोगों को कोरोना का टीका दिया जाएगा. कोरोना टीकाकरण को लेकर एक तरफ जहां आमलोगों में उत्साह का माहौल है, वहीं समाज में कुछ ऐसे भी लोग हैं जो टीकाकरण को लेकर लोगों में भ्रम फैला रहे हैं. अफवाह फैलाकर लोगों में नकारात्मक भाव पैदा कर रहे हैं. ऐसे लोगों से सावधान रहने की जरूरत है. अफवाह पर ध्यान देने की कोई आवश्यकता नहीं है.

शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ सुनील कुमार चौधरी कहते हैं कोरोना टीका को लेकर स्वास्थ्य विभाग पूरे जोर से लगा हुआ है. सरकारी निर्देश का पालन किया जा रहा है. जिले में कोरोना के रखरखाव का इंतजाम कर लिया गया है. पहले चरण में पड़ने वाले स्वास्थ्यकर्मियों को भी चिन्हित कर लिया गया है. टीका आने के बाद लोगों को देने का काम शुरू कर दिया जाएगा.

टीका को लेकर चिंता करने की कोई जरूरत नहीं: डॉ चौधरी ने कहा समाज में कोरोना के टीकाकरण को लेकर अफवाहों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है. सरकार और स्वास्थ्य विभाग द्वारा हर तरफ से टीका को परखने के बाद ही आमलोगों को दिया जाएगा. इसलिए टीका को लेकर चिंता करने की कोई बात नहीं है. आपको जो टीका पड़ेगा वह पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा और आपका कोरोना से बचाव करेगा. मन में किसी भी तरह का भ्रम नहीं पालें.

टीका आने तक कोरोना की गाइडलाइन का करें पालन: डॉक्टर चौधरी कहते हैं जब तक टीकाकरण हो नहीं जाता है, तब तक लोगों को सख्ती से कोरोना की गाइडलाइन का पालन करना चाहिए. घर से निकलते वक्त मास्क जरूर पहनना चाहिए. साथ ही भीड़-भाड़ से बचे रहना चाहिए. घर हो या बाहर हर जगह सामाजिक दूरी का पालन करना चाहिए. तभी कभी आप कोरोना से सुरक्षित रहेंगे.

टीका पड़ जाने के बाद भी लापरवाह रहना ठीक नहीं: डॉक्टर चौधरी कहते हैं टीकाकरण के बाद लोग कोरोना से दो सुरक्षित हो जाएंगे, लेकिन अन्य तरह की संक्रामक रोग भी होते हैं, जिसका बचाव सावधानी से कर सकते हैं. मास्क पहनने से कोरोना समेत अन्य बीमारियों से भी हमारा बचाव होता है. सामाजिक दूरी का पालन करने से किसी भी तरह का संक्रामक रोग लोगों को नहीं होगा. इसलिए कोरोना का टीका पड़ जाने के बाद भी लोग कोरोना से सावधानी बरतेंगे तो अच्छा रहेगा.

कोविड 19 के दौर में रखें इसका भी ख्याल:
• व्यक्तिगत स्वच्छता और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें.
• बार-बार हाथ धोने की आदत डालें.
• साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
• छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढंके.
• उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके.
• घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें.
• बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें.
• आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें.
• मास्क को बार-बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें
• किसी बाहरी व्यक्ति से मिलने या बात-चीत करने के दौरान यह जरूर सुनिश्चित करें कि दोनों मास्क पहने हों
• कहीं नयी जगह जाने पर सतहों या किसी चीज को छूने से परहेज करें
• बाहर से घर लौटने पर हाथों के साथ शरीर के खुले अंगों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह साफ करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.