भूमि कटाव की भेंट चढ़े एयरपोर्ट रास्ते की वजह से गुजर समुदाये खासा परेशान। 

 जान जोखिम में डाल कर रहे काम / चक्की दरिया में रस्सी डाल उस के सहारे समान पहुचाया जा रहा एक किनारे से दूसरे किनारे / हिमाचल सरकार से जल्द अस्थाई पुल डालने की उठाई मांग
आ/र—— पिछले दिनों चक्की दरिया की भेंट चढ़े एयरपोर्ट रोड का असर जहां मिलिट्री हॉस्पिटल पर देखने को मिला है वही अब इस का असर स्थानीय लोगों के रोजगार पर भी पढ़ता हुआ दिख रहा है जिसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि चक्की दरिया के उस तरफ पड़ते 12 गांव के लोगों को अपना व्यापार करने के लिए जान जोखिम में डालनी पड़ रही है और इन सब के बीच गुर्जर समुदाय खासा परेशान दिख रहा है क्योंकि गुर्जर समुदाय का काम लोगों तक दूध पहुंचाना है और रोजाना दूध पहुंचाने के लिए इन दिनों उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है यह लोग अपनी जान जोखिम में डाल दरिया में उतर रहे हैं और रस्सी के सहारे लोगों तक दूध पहुंचा रहे हैं चाहे इस संबंधी हिमाचल के जिला कांगड़ा के डीसी इस इलाके का दौरा करके जा चुके हैं लेकिन उसके बावजूद अभी तक इस तरफ कोई भी कदम नहीं उठाए गए हैं इस वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
व/ओ——- इस संबंधी जब गुर्जर समुदाय से बात की गई तो उन्होंने बताया कि पुल टूटने की वजह से उनका व्यापार काफी प्रभावित हो रहा है और बच्चों की रोजाना जरूरतों के लिए उन्हें काफी मशक्कत करनी पड़ रही है उन्होंने बताया कि रस्सी के सहारे उनके द्वारा जान जोखिम में डाल सामान एक किनारे से दूसरे किनारे तक पहुंचाया जा रहा है इस मौके उन्होंने हिमाचल प्रशासन से अपील करते हुए कहा कि यहां पर किसी अस्थाई पुल का निर्माण जल्द से जल्द करवाया जाए ताकि हिमाचल से टूटे इन बारह गांव के लोगों को जल्द से जल्द कोई राहत मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: