यूएएस इंटरनेशनल के एमडी ईशान तनेजा और फोरचुन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. भूपेंद्र सोम ने एमओयू पर हस्ताक्षर किये

 

– एमओयू का उद्देश्य छात्रों में व्यावसायिक कुशलता को बढ़ाना है- डॉ. भूपेंद्र सोम

एमओयू का उद्देश्य अंतररष्ट्रीय और राष्ट्रीय कानूनी शैक्षिक मानक का कार्यान्वयन करना है- ईशान तनेजा

– यूएएस इंटरनेशनल के साथ एमओयू साइन से छात्रों को ग्लोबल एक्सपोजर में फायदा मिलेगा- डॉ. भूपेंद्र सोम –

नईदिल्ली-

यूएएस इंटरनेशनल और फोरचुन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस ने एमओयू पर साइन किए। यूएएस इंटरनेशनल के एमडी ईशान तनेजा और फोरचुन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. भूपेंद्र सोम ने एमओयू पर हस्ताक्षर किये। यह एमओयू ऑनलाइन साइन किए गए। इस एमओयू के साथ ही यूएएस ग्रुप ऑफ कंपनी का ओफिसियल पार्टनर के रूप में फोरचुन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस कार्य करेगा। दोनों कंपनियां प्लेसमेंट इंटर्नशिप और ग्लोबल एक्सपोजर पर कार्य करेंगे। जिसके लिए यूएएस इंटरनेशनल जाना जाता है। फोरचुन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. भूपेंद्र सोम ने हस्ताक्षर पर प्रशंसा व्यक्त करते हुए कहा कि पिछले नौ वर्षों से जिस प्रकार से एजुकेशन के क्षेत्र में यूएएस इंटरनेशनल कार्य कर रहा है यह अद्भूत है। निश्चितरूप से फोरचुन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस को भी इससे फायदा मिलेगा।

डॉ. भूपेंद्र सोम ने कहा कि एमओयू का उद्देश्य सहयोग द्वारा व्यापक रूप से शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करना है। दोनों संस्थानों के सहयोगात्मक प्रयासों के माध्यम से शिक्षा और अनुसंधान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से नई साझेदारी को विकसित करने और पोषित करने की आवश्यकता है।

डॉ. भूपेंद्र सोम ने कहा कि शिक्षा का उद्देश्य छात्रों में व्यावसायिक कुशलता की उन्नति करना है। इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए व्यावसायिक प्रशिक्षण की आवश्यकता है। जिसकी पूर्ति यूएएस इंटरनेशनल लगातार कार्य कर रहा है। यूएएस इंटरनेशनल का ध्यान लगातार छात्रों में व्यावसायिक क्षमता की उन्नति करना है जिससे उनकी कार्यकुशलता को बढ़ावा मिले। इसके लिए कई तरह की बाउंडिंग भी करता है। छात्रों को यहीं इंटरनेशनल एक्सपोजर भी एमओयू साइन करने से मिलेगा।

इस मौके पर यूएएस इंटरनेशनल के एमडी व सीईओ  ईशान  तनेजा  ने  एमओयू पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि फोरचुन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस बेहतर बिजनेस स्कूल है। जहां के छात्र देश व विदेश में काफी बेहतरीन परफोर्मेंशन के साथ नाम रोशन कर रहे हैं। निश्चिततौर पर यूएएस इंटरनेशनल इनके कार्यों में चार चांद लगा देगा।

ईशान तनेजा ने कहा कि आज नई शिक्षा नीति में कई ऐसे प्रावधान है जिसके लिए संस्थान में एक्सपोजर लाने की जरूरत है जिसके लिए यूएएस इंटरनेशनल लगातार कार्य कर रहा है। फोरचुन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस जैसी संस्थान के साथ एमओयू साइन होने पर युवाओं को काफी लाभ मिलेगा।

ईशान तनेजा ने कहा कि एमओयू का उद्देश्य अंतररष्ट्रीय और राष्ट्रीय कानूनी शैक्षिक मानक का कार्यान्वयन करना है। यह एमओयू फैकल्टी के साथ-साथ विद्यार्थियों के लिए शैक्षिक और अनुसंधान के क्षेत्र में आपसी सहयोग के आदान-प्रदान और बढ़ावा देने में मददगार होगा।

गौरतलब है कि यूएएस ग्रुप ऑफ कंपनी पिछले नौ वर्षों में चार कंपनियों सफलतापूर्वक चल रहा है। जिसमें यूएएस इंटरनेशनल वेल्थ मैनेजमेंट कंपनी, यूएएस इंटरनेशनल हॉस्टल चेन, यूएएस इंटरनेशनल हॉलिडेज प्रा. लि. है और अभी एलोफ्ट करियर नाम से ऑन लाइन एजुकेशन का नया प्लेटफोर्म तैयार किया गया है जिसको लेकर युवाओं में उत्साह है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Notice: Undefined index: amount in /home/u709339482/domains/mobilenews24.com/public_html/wp-content/plugins/addthis-follow/backend/AddThisFollowButtonsHeaderTool.php on line 82
%d bloggers like this: