आज सुबह अचानक दिल्ली स्थित गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब पहुंचे पीएम नरेंन्द्र मोदी

नई दिल्ली : केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर लगातार 25वें दिन भी किसानों का आंदोलन जारी है. आंदोलनकारी किसान लगातार केंद्र की मोदी सरकार से तीन कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग कर रहे है और इसी बीच किसानों और सरकार के बीच बातचीत जारी है. विपक्ष जहां केंद्र की मोदी सरकार पर किसानों की बात न सुनने का आरोप लगा रहा है तो वहीं  दूसरी तरफ मोदी सरकार आंदोलनकारी किसानों को मनाने की पूरी कोशिश कर रही है.  किसान तीन कृषि बिल में संसोधन को तैयार हैं पर किसानों की एक ही मांग है कि सरकार  जल्द से जल्द तीन कृषि कानून को रद्द करें. तीन कृषि कानून का विरोध कर रहे किसानों ने आज किसान शहीदी दिवस मनाने का ऐलान   किया है और  किसान आंदोलन ने अब पहले से ज्यादा जोड पकड़ लिया है.

ये भी पढ़े : सुबह की ताजा खबरें. Morning News 20th December 2020

इसी बीच आज सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अचानक दिल्ली स्थित गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब पहुंचे और देश की आन-बान की खातिर अपना सर्वोच्च बलिदान करने वाले गुरु तेग बहादुर को श्रद्धांजलि दी.  आपको बता दे कि आज गुरु तेग बहादुर का शहीदी दिवस है. दिल्ली की सीमा पर जारी किसान आंदोलन के बीच पीएम का गुरुद्वारा रकाब गंज पहुंचना बहुत अहम माना जा रहा है, क्योंकि आंदोलन में पंजाब-हरियाणा के किसानों की सक्रिय भूमिका है. पीएम मोदी के अचानक आज दिल्ली स्थित रकाबगंज गुरूद्वार पहुंचने को लेकर खास बात ये रही कि इस दौरान ना ही कोई पुलिस बंदोबस्त किया गया था और ना ही आमजन के लिए यातायात अवरोध लगाए गए थे. वहीं आज रकाबगंज गुरू द्वार पहुंचने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने सिख गुरु के शहीदी दिवस पर पंजाबी में ट्वीट किया.

ये भी पढ़े : कोरोना के मामले कम होना अच्छी बात पर खतरा अभी टला नहीं

प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा, ‘श्री गुरु तेग बहादुर जी का जीवन साहस और करुणा का प्रतीक है। महान श्री गुरु तेग बहादुर के शहीदी दिवस पर मैं उन्हें नमन करता हूं और समावेशी समाज के उनके विचारों को याद करता हूं।’ आपको बता दे कि साल 1621 में जन्मे सिखों के नौवें गुरु तेगबहादुर 1675 में दिल्ली में शहीद हो गए थे. गुरु तेग बहादुर का जन्म पंजाब के अमृतसर में हुआ था. गुरु हरगोबिंद साहिब जी के घर में जन्में गुरु तेग बहादुर बचपन से ही धार्मिक और निडर स्वभाव के थे. खैर अब पीएम मोदी द्वारा आज अचानक दिल्ली स्थित गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब पहुंचना तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों को  कितना रिक्षा पाता हैं ये तो आने वाले दिनों में ही पता चलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Notice: Undefined index: amount in /home/u709339482/domains/mobilenews24.com/public_html/wp-content/plugins/addthis-follow/backend/AddThisFollowButtonsHeaderTool.php on line 82
%d bloggers like this: