राहुल बोले, महबूबा मुफ्ती को रिहा करने का ये सही वक्त

कांगेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल केंद्र की मोदी पर लगातार किसी न किसी मुद्दें को लेकर निशाना साधते रहते है.  चाहे वो कोरोना वायरस का मामला हो या फिर वर्तमान में LAC  पर भारत और चीन के बीज चल रहा गतिरोध हो. राहुल गांधी वर्तमान में केंद्र की मोदी सरकार को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ते. इस कड़ी में अब राहुल गांधी ने आज एक बार फिर ट्विट कर केंद्र की मोदी सरकार को अपने निशाने पर लिया है.

ये भी पढ़े : सुबह की ताजा ख़बरें . Morning News. 2nd August 2020

राहुल ने ट्विट कर भारत का लोकतंत्र उस समय क्षतिग्रस्त हो गया जब भारत सरकार ने गैरकानूनी रूप से राजनीतिक नेताओं को बंदी बनाया। यह सही समय है जब महबूबा मुफ्ती को रिहा किया जाए. आपको बता दे कि राहुल गांधी से पहले यूपीए सरकार में वित्त मंत्री रहे औऱ कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने भी जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती की पीएस एक्ट के तहत नजरबं किए जाने पर सवाल खड़े किए थे.

चिदंबरम ने कहा था कि , ‘पीएसए के तहत  महबूबा मुफ्ती की नजरबंदी का विस्तार कानून का दुरुपयोग है और नागरिकों के संवैधानिक अधिकारों पर हमला है. आपको बता दे कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 को हटाए जाने के साथ ही जम्मू कश्मीर के बड़े नेताओं जैसै फारूक अब्दुल्ला , उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती समेत कई नेताओं को पीएसए एक्ट तहत हिरासत में लिया गया था. हालांकि अब फारूक अब्दुल्ला , उमर अब्दुल्ला जैसे नेताओँ समते कई नेताओं को जम्मू कश्मीर में रिहा कर दिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *