ये गूगल स्ट्रीट व्यू क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे करे

गूगल ने भारत में अपना स्ट्रीट व्यू फीचर लॉन्च कर दिया है। यह किसी भी रास्ते का 360 डिग्री व्यू दिखाता है। अब आप घर बैठकर किसी भी जगह के बारे में जान सकते हैं। इसके साथ ही आप किसी भी रेस्टोरेंट या मॉल का वर्चुअल अनुभव भी कर पाएंगे।

इसकी लॉन्चिंग के साथ ही लोगों के मन में कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। मसलन- हम इसका कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं? गूगल इतनी सारी तस्वीरें कैसे खींच रहा है? क्या गूगल स्ट्रीट व्यू घर के अंदर भी देख सकता है? वगैरह-वगैरह

आखिर ये गूगल स्ट्रीट व्यू है क्या, जिसकी आजकल बहुत चर्चा हो रही है?

कहीं जाने या रास्ते की पहचान के लिए आप अक्सर गूगल मैप का इस्तेमाल करते होंगे। गूगल मैप में एक नया फीचर जुड़ा है, जिसका नाम है गूगल स्ट्रीट व्यू। ये फीचर हमें हर गली-कोना जैसा है वैसा ही दिखाता है। इसको ऐसे समझिए कि आपका दिल्ली के लाल किले जाने का मन है।

अब आप वहां जाने से पहले उस जगह को देखना चाहते हैं तो कैसे देखेंगे? आप कहेंगे कि गूगल पर तो इसकी कई तस्वीरें हैं। जी बिल्कुल, लेकिन अगर आप घर बैठे किसी जगह को 360 डिग्री में देख सकें कि वो कैसी है, उसके आस-पास क्या है? वहां तक जाने के रास्ते में क्या-क्या आएगा? और ये सब असल में कैसा दिखता है तो? इन सभी सवालों का जवाब है स्ट्रीट व्यू। इसके जरिए आप किसी भी जगह को असल में देखने का अनुभव कर सकते हैं। यह आपको ऐरो के जरिए कैसे इस जगह को घूमना है, यह भी बताता है।

स्ट्रीट व्यू क्या है ये तो समझ लिया, लेकिन ये काम कैसे करता है?

स्ट्रीट व्यू के लिए गूगल पैदल, साइकिल, नाव, कार के जरिए तस्वीरें इकट्ठा करता है। गूगल ऐसे विशेष कैमरों का इस्तेमाल करता है जो एक साथ कई दिशाओं की तस्वीरें खींच सकते हैं। बाद में इन तस्वीरों को एक साथ जोड़ा जाता है ताकि यह 360 डिग्री व्यू दिखा सकें।

इसे कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं और इसके लिए कितना चार्ज लगता है?

गूगल स्ट्रीट व्यू इस्तेमाल करने का फिलहाल कोई चार्ज नहीं लगता। इसे इस्तेमाल करना भी बेहद आसान है। गूगल स्ट्रीट व्यू के लिए आपको किसी नई एप्लीकेशन की जरूरत नहीं है। यह गूगल मैप्स का एक फीचर है।आप एंड्रायड फोन में गूगल प्ले स्टोर से गूगल मैप्स डाउनलोड कर स्ट्रीट व्यू से कहीं भी जा सकते हैं।

जैसे अपने सोफे पर आराम से बैठकर न्यूजीलैंड के सुदूर जंगल में रहने वाले इस तोते और उसकी दुनिया का जायजा ले सकते हैं

गूगल इतनी सारी तस्वीरें खींच कैसे रहा है?

ज्यादातर शहरों का स्ट्रीट व्यू गूगल एक कार के जरिए बना रहा है। इन कारों की छत पर एक कैमरा सिस्टम लगा होता है, जो तस्वीरें खींचता रहता है। इसकी शुरुआत 2007 में अमेरिका में हुई थी। गूगल की ये कारें पिछले 10 सालों से दुनिया के अलग-अलग शहरों में घूम रही हैं। यह अब तक ये कारें 70 से ज्यादा देशों और 10 लाख किमी से ज्यादा चल चुकी हैं।

इसके साथ ही गूगल अलग-अलग मीडियम का इस्तेमाल करके भी फोटो खींचता है। आम लोग भी गूगल मैप्स पर तस्वीर अपलोड कर सकते हैं। गूगल इन तस्वीरों का इस्तेमाल करके भी स्ट्रीट व्यू दिखाता है।

क्या गूगल स्ट्रीट व्यू लाइव चलेगा?

नहीं, यह लाइव नहीं है। इसमें जो तस्वीरें इस्तेमाल की जाती हैं, वो तब की हैं जब वहां गूगल ने तस्वीर खींची थी। इसके साथ ही लोग जो तस्वीरें खींच कर भेजते हैं, गूगल वो भी दिखाता है। यह जानने के लिए की जो तस्वीर आप स्ट्रीट व्यू में देख रहे हैं, वो कब की है। आप लैपटॉप या कम्प्यूटर में गूगल मैप्स खोलकर ऊपर, उल्टे हाथ की तरफ देख सकते हैं। यहां जगह का नाम और उसके नीचे तस्वीर कब खींची गई, इसकी जानकारी होती है।

गूगल का कहना है कि वो कोशिश करते हैं साल में एक बार इसे जरूर अपडेट करें। ज्यादा भीड-भाड़ वाली जगहों पर आप देखेंगे कि यह जल्दी अपडेट होता है। हालांकि, कई जगहों में इसे अपडेट होने में 2 से 3 साल तक लग सकते हैं।

जैसे दुनिया की सबसे व्यस्त कही जाने वाली ऑक्सफोर्ड स्ट्रीट का यह स्ट्रीट व्यू इस ही साल अपडेट हुआ है

क्या मैं किसी रास्ते पर हूं तो मैं भी गूगल स्ट्रीट व्यू में दिखूंगा/दिखूंगी?

जी नहीं, क्योंकि यह लाइव नहीं है तो आप निश्चिंत होकर कहीं भी घूम फिर सकते हैं। हां, अगर गूगल की फोटो खींचते वक्त आप वहां मौजूद थे, तब आप दिखाई देंगे। हालांकि, गूगल अपनी प्राइवेसी पॉलिसी के तहत किसी भी ऐसी चीज को ब्लर कर देता है, जो आपकी आइडेंटिटी बताती हों। आपका चेहरा, घर, गाड़ी की नंबर प्लेट जैसी सभी चीजें इसमें शामिल हैं।

आप चाहते हैं कि किसी फोटो में आपको पूरी तरह ब्लर कर दिया जाए, इसके लिए भी आप गूगल को बता सकते हैं। इसके लिए आपको गूगल स्ट्रीट व्यू की प्राइवेस सेटिंग्स में ‘रिपोर्ट अ प्रॉब्लम’ में जाना होगा। यहां आप अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। दूसरों से ली गई फोटोज में भी वह कहते हैं कि आप दूसरों की निजता के लिए उनके आइडेंटिटी बताते हुए किसी भी फीचर को ब्लर कर दें।

अब आखिर में जानते हैं कि भारत के किन शहरों में शुरू हुआ गूगल स्ट्रीट व्यू?

फिलहाल स्ट्रीट व्यू फीचर पायलट बेसिस पर बेंगलुरु में शुरू हुआ है। इसके बाद हैदराबाद और कोलकाता में यह शुरू किया जाएगा। तीसरे फेज में चेन्नई, दिल्ली, मुंबई, पुणे, नासिक, वडोदरा, अहमदनगर और अमृतसर जैसे बड़े शहरों में भी लोग इसका फायदा उठा सकेंगे। गूगल का दावा है कि 2022 के अंत तक भारत के 50 से ज्यादा शहरों में ये सर्विस शुरू हो जाएगी। हालांकि, आम लोगों की मदद से ली गई फोटोज के जरिए अभी भी देश के कई शहरों में स्ट्रीट व्यू का ऑप्शन मिल जाता है। जैसे गेटवे ऑफ इंडिया का यह व्यू देखिए –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Notice: Undefined index: amount in /home/u709339482/domains/mobilenews24.com/public_html/wp-content/plugins/addthis-follow/backend/AddThisFollowButtonsHeaderTool.php on line 82
%d bloggers like this: